Breaking News
Home / News / मथुराः CCTV में कैद पुलिस की ‘गुंडई’, टोल कर्मियों को पीटा, 40 हजार भी लूटे

मथुराः CCTV में कैद पुलिस की ‘गुंडई’, टोल कर्मियों को पीटा, 40 हजार भी लूटे

कैश काउंटर से रुपये चुराता पुलिस कर्मी

टोल प्लाजा पर नेताओं की दबंगई के किस्से आपने पहले भी देखे-सुने होंगे. बदमाशों को भी टोल कर्मियों की पिटाई करते हुए आपने देखा होगा. लेकिन यूपी के मथुरा जिले से जो तस्वीरें सामने आई हैं वो हैरान करने वाली हैं. आगरा-दिल्ली हाइवे पर थाना फरह क्षेत्र के तहत आने वाले महुअन टोल बूथ पर सीओ रैंक के अधिकारी की अगुआई में पुलिसकर्मियों ने टोल पर जमकर उत्पात मचाया. ना सिर्फ टोल कर्मियों की डंडों से जमकर पिटाई की गई, बल्कि एक पुलिसकर्मी ने टोल के कलेक्शन बॉक्स में रखे 40 हजार रुपए पर ही हाथ साफ कर दिया. पुलिसकर्मियों की सारी करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई.

मंगलवार देर रात सीओ नितिन सिंह पुलिसकर्मियों के साथ फरह से मथुरा की तरफ जा रहे थे. उनकी गाड़ी जब बूथ नंबर 13 से निकली तो टोल का बैरियर उस पर गिर गया. आरोप है कि ये देखकर सीओ का पारा सातवें आसमान पर चढ़ गया. सीओ के साथ मौजूद पुलिसकर्मियों ने आव देखा ना ताव और बूथ पर तैनात टोल कर्मियों की पिटाई करना शुरू कर दिया. आरोप के मुताबिक इसी दौरान एक पुलिसकर्मी ने टोल के कलेक्शन बॉक्स में रखे 40 हजार रूपये दोनों हाथों से उठा कर जेब में भर लिए. उसे ये नहीं पता था कि उसकी हरकत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है.

टोल कर्मियों के साथ इतनी मारपीट से भी सीओ का दिल नहीं भरा. थोड़ी देर बाद ही वो बूथ से हटकर सड़क किनारे बने टोल दफ्तर में पहुंच गए. वहां भी सीओ की मौजूदगी में टोल कर्मियों की खूब धुनाई की गई. मामला सीओ और पुलिसकर्मियों की दबंगई से जुड़ा है इसलिए कोई वरिष्ठ पुलिस अधिकारी कैमरे पर बोलने को तैयार नहीं हुआ.

सीओ नितिन सिंह से फोन पर पक्ष जानने की कोशिश की गई तो जवाब मिला, ‘टोल कर्मियों की ओर से वाहन सवारों के साथ बदसलूकी को लेकर आए दिन शिकायतें मिलती रहती थीं. जब मंगलवार रात को मैं वहां से जा रहा था तब भी एक कार सवार ने टोल कर्मियों की शिकायत उनसे की. जब टोल कर्मियों से इस बारे में पूछताछ की गई तो वे भड़क गए और पुलिसकर्मियों पर ही हमला कर दिया.

 

बहरहाल, सच क्या है वो जांच के बाद सामने आ ही जाएगा. लेकिन सीसीटीवी फुटेज में जो देखा जा सकता है वो पुलिस की दबंगई को साफ जाहिर करता है. अब ये देखना होगा कि पुलिस के आला अधिकारी इस घटना पर क्या रुख अपनाते हैं? वो भी ऐसी सूरत में जब प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानून और व्यवस्था दुरुस्त रखने के लिए सख्त निर्देश दे रखे हैं. पुलिसवाले खुद ही गुंडई पर उतर आएं, टोल लूट को अंजाम देने लगें तो खुद ही हालात का अंदाजा लगाया जा सकता है.

About Samagya

Check Also

माँ ममता: आगामी पूजा के लिए दीदी ममता बनर्जी के रूप में बंगाल मंडल दुर्गा को डिजाइन

Share this on WhatsAppआगामी मेगा बोनान्जा के लिए देवी दुर्गा की एक मूर्ति बंगाल के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *