राष्ट्रव्यापी हड़ताल के कारण दूसरे दिन पूर्व रेलवे जोन में ट्रेन सेवा प्रभावित हुई

दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल के समर्थकों द्वारा दूसरे दिन कई स्थानों पर जाम किये जाने के कारण पूर्वी रेलवे जोन में बुधवार को ट्रेन सेवा प्रभावित रही। केन्द्रीय ट्रेड यूनियनों ने केन्द्र की कथित ‘जन-विरोधी’ नीतियों के खिलाफ 8 और 9 जनवरी को दो दिवसीय देशव्यापी हड़ताल का आह्वान किया था। पूर्वी रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि सियालदह-बनगांव खंड के अशोकनगर में रेल पटरियों पर एक संदिग्ध बम मिला जिसके कारण इस मार्ग पर ट्रेन सेवा रोक दी गई। प्रवक्ता ने बताया कि अधिकारियों ने अशोकनगर में लेवल क्रासिंग के नजदीक संदिग्ध देसी बम हटा दिया और सुबह के 10.25 बजे इस खंड पर रेल सेवा बहाल हुई। सियालदह दक्षिण खंड में विभिन्न स्थानों पर ओवर हेड तार पर फेंके गए केले के पत्तों से सियालदह-डायमंड हार्बर, सियालदह-लक्ष्मीकांतपुर और सियालदह-नामखाना मार्ग पर सुबह 5.20 बजे ट्रेन सेवाओं में व्यवधान उत्पन्न हुआ। सियालदह-डायमंड हार्बर मार्ग को छोड़ कर अन्य दो मार्गों पर सुबह सवा 8 बजे समान्य सेवा बहाल हो गई। पूर्वी रेलवे के हावड़ा मंडल में प्रदर्शनकारियों ने भंडारटिकुरी स्टेशन पर पटरियों को अवरूद्ध कर दिया जिसके बाद बंडेल-कटवा मार्ग पर सेवा प्रभावित हुई। बेलूर, बाली, लिलुआ, श्रीरामपुर, चंदननगर समेत अन्य स्टेशनों पर बंद समर्थकों ने सुबह 7:30 बजे के करीब ट्रेन सेवा रोक दी थी। हालांकि सूचना मिलने के बाद आरपीएफ और जीआरपी की टीम मौके पर पहुंची और प्रदर्शनकारियों को हटाया जिसके बाद ट्रेन सेवा धीरे-धीरे सामान्य हुई। हालांकि एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन ट्रेन के पहुंचने के बाद किसी अन्य स्टेशन पर प्रदर्शनकारी एक बार फिर पटरियों पर उतरकर रेल सेवा रोक दे रहे थे। प्रवक्ता ने बताया कि दक्षिण पूर्वी रेलवे जोन में ट्रेन सेवा सामान्य रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *