Home / Business / 7.28 करोड़ लोगों को स्वरोजगार मिला : शाह

7.28 करोड़ लोगों को स्वरोजगार मिला : शाह

  • द मेकिंग आफ ए लिजेंड’ का लोकार्पण हुआ

नयी दिल्ली, एजेंसियां

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज कहा कि अर्थ जगत के पंडित ‘नौकरीविहीन वृद्धि ‘ की बात का जिक्र करते हुए मोदी सरकार की आलोचना कर सकते हैं लेकिन भारत केवल नौकरी के भरोसे बेरोजगारी का मुकाबला नहीं कर सकता है और इस संदर्भ में स्वरोजगार पर जोर जरूरी है।  शाह ने कहा कि पिछले तीन वर्षों में केंद्र की मुद्रा रिण रोजना के तहत 7.28 करोड़ लोगों को स्वरोगार मिला जो अपने आप में महत्वपूर्ण है। अर्थ जगत के पंडित ‘नौकरीविहीन वृद्धि’ की बात करते हैं और मेरे सिर पर जो कुछ थोड़े बाल हैं, उसे निकालने का प्ररास करते हुए पूछते हैं कि नौकरी कहां है? भाजपा अध्रक्ष आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर पुस्तक  ‘द मेकिंग आफ ए लिजेंड’ का लोकापर्ण कर रहे थे। इस समारोह में आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत, कई केंद्रीर मंत्री एवं भाजपा नेता मौजूद थे। शाह ने कहा कि सवा सौ करोड़ लोगों की आबादी वाला देश केवल नौकरी सृजित करके बेरोजगारी की समस्रा से नहीं निपट सकता है। मोदी सरकार ने स्वरोजगार पहल के तहत 7.28 करोड़ लोगों को स्वरोगार उपलब्ध करारा। गरीबों को समपर्ति मोदी सरकार की रोजनाओं को रेखांकित करते हुए शाह ने कहा कि सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि रह रही है कि इसने कतार में खड़े अंतिम व्रक्ति के उत्थान में

मदद की।

 शाह ने कहा कि सरकार ने रह सुनिश्‍चित किरा है कि प्रत्रेक परिवार का बैंक खाता हो, साथ ही 4.38 करोड़ शौचालरों का निर्माण करारा है ताकि गरीब महिलाओं को सम्मान के साथ जिंदगी बसर करने का मौका मिल सके अन्रथा उन्हें खुले में शौच करना पड़ता था। पूर्व की सरकारों पर चुटकी लेते हुए शाह ने कहा कि गरीबों और विकास के मुद्दे पर अनेक प्रधानमंत्रिरों ने बात की लेकिन शौचालर का निर्माण, बैंक खाता खोलने और गरीबों को अन्र बुनिरादी सुविधाएं प्रदान करने का काम मोदी के लिरे छोड़ दिरा। सरकार ने 2019 तक 5 करोड़ गरीब महिलाओं को एलपीजी सिलिंडर उपलब्ध कराने और 2024 तक प्रत्रेक परिवार को उपलब्ध कराने का लक्ष्र रखा है।

About Samagya

Check Also

एयरटेल पेमेंट बैंक ने भारत में UPI इनेबल डिजिटल पेमेंट की लॉन्च

Share this on WhatsAppएयरटेल ने एक नई सर्विस शुरु की है जिसके तहत यूजर्स पभोक्ता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *