Breaking News
Home / News / उप्र में अक्षय होंगे स्वच्छता अभियान के ब्रांड एंबेसडर : योगी

उप्र में अक्षय होंगे स्वच्छता अभियान के ब्रांड एंबेसडर : योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार उत्तर प्रदेश में स्वच्छता अभियान के ब्रांड एंबेसडर होंगे। वहीं प्रदेश में स्वच्छता अभियान की ओर प्रेरित करने वाली उनकी फिल्म ‘टॉयलेट : एक प्रेम कथा’ प्रदेश में टैक्स फ्री भी हो गई है। योगी शुक्रवार को लखनऊ के मिलेनियम स्कूल में स्वच्छता को लेकर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में अक्षय कुमार के साथ अभिनेत्री भूमि पेडनेकर भी मौजूद थीं।

मुख्यमंत्री ने कहा, “फिल्मों का उद्देश्य या सरकार की नीतियां लोगों और समाज को ध्यान में रख कर बनाई जानी चाहिए। फिल्में और नीतियां किसी व्यक्ति, परिवार या वर्ग विशेष के लिए नहीं बल्कि सर्वसमाज के लिए बनें। यही लोकतंत्र की सार्थकता है। फिल्में ऐसी हों कि समाज की संवेदनाओं को नई दिशा दे सकें। उनका मकसद केवल मनोरंजन न हो। पहले भी ऐसी बहुत सी फिल्में बनीं हैं, जिन्होंने सामाजिक प्रेरणा में अहम भूमिका अदा की।”

अक्षय कुमार की फिल्म और उनके प्रयास की तारीफ करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वह पहले अभिनेता हैं, जिन्होंने समाज की इस समस्या को फिल्म के माध्यम से उठाया है। नई दिशा देने का प्रयास किया। इससे समाज की सोच में बदलाव आएगा।

मुख्यमंत्री ने चिंता जताते हुए कहा कि लोगों के पास पैसा है, लेकिन टॉयलेट उपयोग को लेकर मानसिकता नहीं है। गांवों में लोग सरकारी मदद से बने टॉयलेट में गोबर के कंडे और लकड़ी रख देते हैं।

Image result for उप्र में अक्षय होंगे स्वच्छता अभियान के ब्रांड एंबेसडर : योगी

उन्होंने कहा कि लोगों को अपमानित कर स्वच्छता के लिए जागरूक करना उचित नहीं होगा। यह स्वतंत्रता के हनन का मामला बन सकता है। उन्होंने कहा कि देश में वैसे भी बहुत से लोग कानून के दायरे में स्वतंत्रता नहीं, बल्कि स्वछंदता चाहते हैं।

खुले में शौच पर कटाक्ष करते हुए योगी ने कहा, “लोग इसे अपनी आजादी मानते हैं। इसलिए सामाजिक चेतना का जागरण होना जरूरी है। समाज में कितनी रुढ़िवादिता हावी है। अभी कुछ दिनों से चोटी काटने के प्रकरण सुनने में आ रहे हैं। आगरा में एक बुजुर्ग महिला की हत्या तक कर दी गई। सोचना होगा, कितने अंधकार व अंधविश्वास में जी रहे हैं हम? टायलेट बनाएंगे बीमार हो जाएंगे, ऐसे भ्रम फैलाए जा रहे हैं।”

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा से गंगा की निर्मलता के लिए किनारे बसे 25 जिलों के 1,627 गांवों को ओडीएफ (खुले में शौच से मुक्त) कर दिया है। 31 दिसम्बर तक 30 जिलों को ओडीएफ घोषित किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा से दो अक्टूबर, 2018 तक प्रदेश को खुले में शौच से मुक्त कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हम 22 करोड़ आबादी को इस अभियान से जोड़ेंगे।

About Samagya

Check Also

JioPhone की प्री-बुकिंग हुई शुरुः जानें क्या डॉक्यूमेंट देना होगा और कब मिलेगा ये फोन?

Share this on WhatsApp   जियोफोन का लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. कल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *