समाज्ञा

जियोफोन से प्रतिद्वंद्वी कंपनियों में बेचैनी, ग्राहकों को रोकने के लिए इंतजाम में जुटे ऑपरेटर्स

नई दिल्ली
मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस जियो के चर्चित 4G फोन की प्री बुकिंग शुरू हो चुकी है और यह इंडस्ट्री में नया ‘विध्वंसकारी’ कदम है। 1 लाख 66 हजार करोड़ रुपये की टेलिकॉम इंडस्ट्री में रिलायंस जियो की ‘तूफानी’ ऐंट्री ने गेम के रूल्स बदल दिए और टेलिकॉम मार्केट मुफ्त की योजनाओं पर सवार हो गया। 

तेज शुरुआत के बाद जियो के कस्टमर्स की बढ़त धीमी पड़ने लगी, क्योंकि देश में 4G हैंडसेट वाले लोगों की संख्या सीमित है, लेकिन जियोफोन इस नए ऑपरेटर को उन लाखों 2G फीचर फोन यूजर्स को अपनी ओर खींचने में मदद कर सकता है जो महंगे स्मार्टफोन वहन नहीं कर सकते याय फिर यूज करना नहीं जानते।

 

4G फीचर फोन, जियोफोन जिसकी प्रभावी कीमत शून्य है, दूसरी कंपनियों को बड़ा नुकसान पहुंचा सकता है। यह दूसरे कंपनियों के ग्राहकों का एक बड़ा हिस्सा छीन सकता है। यह सस्ते फोन वाले वालों को भी प्रभावित कर सकता है।