अनिल अंबानी की कंपनी RCOM पर कर्ज, नहीं लेंगे इस बार वेतन

नई दिल्ली। रिलायंस कम्युनिकेशंस के चेयरमैन अनिल अंबानी चालू वित्त वर्ष (2017-18) के दौरान कंपनी से वेतन नहीं लेंगे। यह खबर न्यूज एजेंसी पीटीआई के हवाले से सामने आई है। वहीं चेयरमैन के नक्शेकदम पर चलते हुए कंपनी मैनेजमेंट ने भी फैसला लिया है कि वो अपने 21 दिनों का व्यक्तिगत मुआवजा (personal remunerations) नहीं लेंगे। यह उपाय साल के अंत तक प्रभावी रहेंगे।

यह प्रयास ऐसे समय में सामने आया है जब जोखिम की आशंका के चलते कंपनी के कर्जों को तीन क्रेडिट एजेंसियों की ओर से डाउनग्रेड किया जा चुका है। मार्च तिमाही के दौरान कंपनी ने कुल 966 करोड़ रुपए का घाटा दर्ज कराया था। वित्त वर्ष 2017 के आखिर में आर कॉम का कर्ज बढ़कर 42,000 करोड़ रुपए हो गया।

Rcom ने प्रेस रिलीज से दी जानकारी:

आरकॉम ने इस संबंध में एक प्रेस रिलीज जारी की है जिसमें कहा गया है कि अनिल अंबानी ने यह फैसला स्वेच्छा से लिया है।

आरकॉम के प्रवक्ता ने बताया कि ग्रुप चेयरमैन अनिल अंबानी ने स्वेच्छा से मौजूदा फाइनेंशियल ईयर में आरकॉम से सैलरी या कमीशन नहीं लेने का फैसला किया है। यह फैसला कंपनी के प्रमोटर्स के स्ट्रैटजिक ट्रांसफॉर्मेशन प्रोग्राम के प्रति कमिटमेंट का हिस्सा है।

गौरतलब है कि रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) पर 10 बैंकों का भारी कर्ज बकाया है। कंपनी इन बैंकों का कर्ज चुका नहीं पा रही है। हालांकि आर कॉम ने कहा है कि वो इस साल 30 सितंबर तक 25,000 करोड़ रुपये का कर्ज चुका देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *