Breaking News
Home / News / सहारनपुर रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी देने वाला साथी सहित गिरफ्तार

सहारनपुर रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी देने वाला साथी सहित गिरफ्तार

सहारनपुर, नौ सितम्बर, समाज्ञा : उतर प्रदेश के सहारनपुर रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले अभियुक्त को पुलिस ने उसके साथी सहित गिरफ्तार कर लिया है ।

धमकी देने वाले ने किसी दूसरे शख्स को फंसाने के उदेश्य से उसी के नाम की आईडी और मोबाइल नम्बर देकर सहारनपुर स्टेशन के अधीक्षक को दो पन्ने का रजिस्टर्ड पत्र भेजा था । जी आर पी थाना प्रभारी अशोक कुमार सिसोदिया ने आज पीटीआई-भाषा को बताया कि 7 सितम्बर को स्टेशन अधीक्षक शिवपाल सिह ने थाना जी आर पी में यह मामला दर्ज कराया था जिसमें तासीन के नाम का आधार कार्ड , बैंक की पासबुक की छाया प्रति और मोबाइल नम्बर देते हुए यह धमकी दी गई थी कि यदि स्टेशन अधीक्षक ने उसके खाते में एक करोड़ रुपये नहीं डलवाए तो जो हाल खतौली वाली रेल का हुआ है वही हाल सहारनपुर से होकर हरिद्वार जाने वाली ट्रेनों का होगा या स्टेशन को भी उड़ा देगा।

सिसोदिया ने बताया कि पुलिस ने जब तासीन से उसके गांव जाकर सम्पर्क किया तो उसने इस पत्र के बारे में अनभिज्ञता जताई । तासीन ने पूछताछ में इसमें असगर का हाथ होने का संदेह जताया। उसने कहा कि असगर यह काम कर सकता है क्योंकि उससे उसे 50 हजार रुपये की रकम वापस लेनी है जिसे देने में वह आनाकानी कर रहा है। रेलवे पुलिस ने कोटा गांव पहुंचकर असगर को धर दबोचा । पहले तो उसने आनाकानी की लेकिन जब सख्ती से पूछताछ की तो उसने सच उगलते हुए बताया कि उसने तासीन को फंसाने के उद्देश्य से ही यह धमकी भरा पत्र लिखा था ताकि इस पत्र को देखकर पुलिस उसे लम्बे समय के लिये जेल मे डाल दे और उसे पैसा न देना पडे़ ।

असगर ने अपने साथी दीपक के साथ यह चिट्ठी तैयार की और कलक्ट्रेट स्थित डाकखाने से इस चिट्ठी को पोस्ट कर दिया । सिसोदिया ने बताया कि इससे पहले भी असगर राजेन्द्र सिंह की आई डी से नीरज शर्मा व लटूरा राजपूत को धमकी भरे पत्र लिख चुका है । तासीन ने पुलिस को यह भी बताया कि असगर ने उससे 50 हजार रू आधार कार्ड और बैंक के पास बुक की छाया प्रति ग्रामीण विकास योजना में उसका व उसके भाई के मकान बनवाने के लिये तीन वर्ष पूर्व लिये थे लेकिन आज तक उसने न तो वह रकम लौटाई और न ही आई डी के कागजात।

About Samagya

Check Also

GST दरों में फिर बदलाव, अब सिर्फ 50 वस्तुओं पर ही 28 फीसदी टैक्स

Share this on WhatsApp गुड्स एंड सर्विसेज़ टैक्स, यानी GST की सर्वाधिक दर 28 फीसदी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *