Breaking News
Home / News / India / कोलकाता में तेज बारिश और आंधी से शाम 4:30 बजे ही छाया अंधेरा…

कोलकाता में तेज बारिश और आंधी से शाम 4:30 बजे ही छाया अंधेरा…

-निम्न दबाव से जन-जीवन अस्त-व्यस्त

कोलकाता :  ऐसे में जब बारिश का मौसम खत्म होने की कगार पर था, महानगर समेत राज्य के अधिकांश गांगेय जिलों में सोमवार तड़के से तेज हवाओं के साथ हुई लगातार बारिश से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया। वहीं, मौसम विभाग ने मंगलवार तक और भी बारिश एवं आंधी चलने का पूर्वानुमान जतारा है। विभाग ने इसके चक्रवात में बदलने की आशंका भी जताई है। लगातार हो रही बारिश और तेज हवाओं के कारण सप्ताह के पहले कामकाजी दिन महानगर में जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ। जल जमाव और उखड़े पेड़ों से शहर के कई प्रमुख मार्गों पर रातारात बाधित हो गए। इससे सुबह के व्रस्त समर में रातारात में दिक्कत आई। दुर्गा पूजा की छुटि्टरों के बाद कई स्कूल सोमवार को खुले थे। भारी बारिश के चलते उनके छात्रों को असुविधा का सामना करना पड़ा।

कई स्कूलों ने खराब मौसम के चलते छुट्टी घोषित कर दी। वहीं, मौसम विभाग ने कहा कि बंगाल के गांगेर इलाकों और उससे सटे बंगाल की खाड़ी के उत्तरी हिस्से में हवा का निम्न दबाव बना है। यह सोवार सुबह 5.30 बजे कोलकाता से 50 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में केंद्रित था। मौसम विभाग ने बतारा कि रह प्रणाली शुरू में पश्‍चिम-उत्तर-पश्‍चिम दिशा में गमन करेगी और अगले 24 घंटों के दौरान भारी निम्न दबाव में बदल सकती है। मौसम विभाग ने बुधवार की सुबह तक अपने पूर्वानुमान में कहा है कि इसके प्रभाव से राज्य के गांगेर क्षेत्रों, उत्तर ओडिशा और पूर्व झारखंड में ज्रादातर स्थानों पर बारिश होगी। इन इलाकों में कुछ इक्के-दुक्के स्थानों पर तेज से बहुत तेज बारिश होगी। मंगलवार तक पश्‍चिम बंगाल और उत्तर ओडिशा में समुद्र की स्थिति खराब रहेगी। इस दौरान मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है। पूव रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी आर एन महापात्रा ने बतारा कि पूव रेलवे के सभी हिस्सों में रेल सेवाएं दोपहर बाद तक सामान्र थीं। केवल कुछ लोकल ट्रेनें कुछ देरी से चल रही थीं। हालांकि कई मेल व एक्स. ट्रेनों के छुटने के समय में बदलाव किया गया।

हवाई सेवा बाधित :  हवाई अड्डा निदेशक अतुल दीक्षित ने कहा कि खराब मौसम से रवाना होने वाली कुछ घरेलू उड़ानें रद्द हो गई। आने वाली कुछ उड़नों के तेज हवाओं की वजह से हवाई अड्डे पर नहीं उतर पाने के बाद दूसरे हवाई अड्डों पर भेज दिरा गरा। उन्होंने कहा कि विमानों के रद्द होने और मार्ग बदलने के बारे में और जानकारी अभी प्राप्त की जा रही है तथा उम्मीद है कि मौसम में सुधार होने पर उड़ानों का परिचालन सामान्र हो जाएगा।

About Samagya

Check Also

नई शिक्षा नीति का पहला मसौदा साल के अंत तक पेश होने की उम्मीद

Share this on WhatsAppनयी दिल्ली : शिक्षा के विविध आयामों पर विचार करने वाली कस्तूरीरंगन समिति …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *