अब यात्रियों के नींद में खलल नहीं, रात 10 से सुबह 6 बजे तक नहीं होगी टिकट जांच

छपरा.अब यात्रियों के नींद में खलल नहीं पड़ेगी। अब रात में टिकट नहीं चेक किए जाएंगे। रात की ट्रेनों में टिकट जांचने के लिए समय तक तय हुआ है। इससे रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक आरक्षित बोगियों में टिकट जांच नहीं होंगे। रात को ट्रेन में सो रहे यात्री को टिकट जांचने के लिए अब नहीं उठाया जाएगा। आरक्षित बोगियों (स्लीपर एवं एसी श्रेणियों) में इस व्यवस्था को लागू किया जाएगा।
यात्रियों की शिकायत पर रेलवे बोर्ड से आदेश सभी जोन में भेजा गया है। रात्रि ट्रेनों में ड्यूटी शुरू करने वाले टिकट निरीक्षक कोच में पहले से सो रहे यात्रियों से भी सीटों की जांच के लिए उन्हें जगाकर टिकट मांगते थे। काफी यात्रियों ने नींद में जगाने पर आपत्ति जताई थी।
संदेह होने पर विजिलेंस व आरपीएफ के अधिकारी कर सकते हैं जांच
हालांकि रेलवे प्रशासन के अनुसार संदेह होने पर विजिलेंस और आरपीएफ के अधिकारी रात को भी किसी भी आरक्षित श्रेणी के कोच में यात्रियों की टिकट और सामान की जांच कर सकते हैं। जानकारी के अनुसार वर्ष 2010 से यह व्यवस्था लागू है। लेकिन, इसका पालन नहीं होता था। रेलवे बोर्ड के नए आदेश से यात्रियों को मानिसक शांति मिलेगी।
टिकट प्लीज फिर होगी स्टेशन परिसर में एंट्री
रेलवे ने आरपीएफ को स्टेशन परिसर के अंदर आने वाले यात्रियों की टिकट चेकिंग का अधिकार दे दिया है। स्टेशन के मेन गेट पर तैनात आरपीएफ जवान द्वारा टिकट प्लीज बोलने पर यात्री को अपना टिकट दिखाना होगा। वरना उसे स्टेशन परिसर में एंट्री नहीं दी जाएगी।
वर्तमान में स्टेशन पर टिकट चेक की व्यवस्था नहीं
वर्तमान में रेलवे स्टेशन पर एंट्री के समय टिकट चेक करने की कोई व्यवस्था नहीं है। सिर्फ परिसर के अंदर या निकासी गेट पर टिकट चेकिंग होती है। अब प्रवेश गेट पर टिकट चेक होने की व्यवस्था शुरू किए जाने से स्टेशन पर अवैध लोगों की एंट्री रुक जाएगी।
वाराणसी मंडल के पीआरओ अशोक कुमार ने बताया कि यात्रियों के शिकायत पर यह सुविधा लागू किया गया है। इससे रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक आरक्षित बोगियों में टिकट जांच नहीं किए जाएंगे। ट्रेन में चढ़ते समय हीं टिकट की जांच कर ली जाएगी। इससे यात्रियों को परेशानी नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *