200 रुपये का नोट लाने की तारीख तय और छपाई शुरू : सूत्र

आरबीआई के सूत्रों से खबर मिली है कि 200 रुपये के नोट लाने की तारीख तय हो चुकी है. सूत्रों से मिली जानकारी के तहत अगले महीने 200 रुपये के नए नोट जारी किए जाएंगे. अगस्त महीने के पहले हफ्ते में लोगों के हाथ में 200 के नये नोट होंगे. इस नोट की छपाई काफी समय से मैसूर में जारी है. जिससे जल्द ही आम लोगों की जेब में 200 रुपये का नया नोट पहुंचेगा. जानकारों की मानें आरबीआई प्रेस में 500 रुपये के नोट की छपाई भी बढ़ा दी गयी है.

इसी महीने ऐसे खबरें आई थीं कि आरबीआई जल्द ही 200 रुपये के नए नोट जारी करेगा. सूत्रों के मुताबिक, वित्त मंत्रालय से विचार विमर्श करने के बाद इसी साल मार्च में आरबीआई ने 200 रुपये के नोट छापने का फैसला किया था. 200 रुपये के नये नोट बाजार में लाने से छोटे नोटों की कमी दूर करने की आरबीआई की कोशिश है

सूत्रों से ये भी जानकारी मिली है कि रिजर्व बैंक को 200 रुपए के नोटों को लेकर एक खास प्रस्ताव भेजा गया है जिसमें कहा गया है कि 200 रुपये के नोट को एटीएम के जरिए बाजार में न लाया जाए. सिफारिशें हैं कि इस नोट को सिर्फ बैंक के जरिए ही देने की सुविधा रखी जाए. इस सुझाव को देने की एक वजह ये है कि देश के सभी ATM को 200 रुपये के हिसाब से बनाने की परेशानी से भी मुक्ति मिल जाएगी.
आज सरकार ने जानकारी दी कि सरकार ने पहले ही तय कर लिया था कि 2000 रुपये के नोट असीमित स॔ख्या में नहीं छापे जा सकते हैं. 2000 रुपये के नोटों की छपाई की संख्या पहले से तय थी और तय संख्या के मुताबिक इनकी छपाई करीब 5 महीने पहले पूरी हो चुकी है. अबसे आगे 2000 रुपये के नोटों की तय संख्या के हिसाब से ही छपाई होगी. हर सूरत में 2000 के नोटों की कानूनी मान्यता बनी रहेगी. सरकार ने उन अफवाहों को भी खारिज किया है जिसमें कहा है कि 2000 रु के नोटों को बंद किया जाएगा. हालांकि 2000 रुपये के नोटों की बड़े पैमाने पर जमाखोरी होने की आशंका से सरकार ने इंकार नहीं किया.

आज 2000 रुपये के नोट को लेकर राज्यसभा में समाजवादी पार्टी के सांसद नरेश अग्रवाल ने सरकार से पूछा है कि क्या 2000 रुपये के नोट छपने बंद हो गए हैं? नरेश अग्रवाल ने कहा, ‘’सरकार को यह स्पष्ट करना चाहिए कि क्या रिजर्व बैंक ने दो हजार रुपए के नोट की छपाई बंद कर दी है.’’ वहीं, जेडीयू के वरिष्ठ नेता शरद यादव ने भी केंद्र सरकार से मांग की है, ‘’सरकार दो हजार रुपए के नोट के छापने की स्थिति को स्पष्ठ करें नहीं तो जनता में अफवाह फैल जाएगी.

ध्यान रहे कि देश में 8 नवंबर 2016 को पीएम मोदी ने 500 और 2000 रुपये के नए करेंसी नोट का ऐलान किया था. 500-1000 रुपये के पुराने करेंसी नोटों पर नोटबंदी के ऐलान के साथ ये नए नोट लाए गए थे. 1000 रुपये का नोट बंद होने के बाद देश में बड़े नोटों का एक और करेंसी नोट लाने की मांग लंबे समय से थी. लिहाजा देश में पहली बार 200 का नोट लाया जा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *