अमेजन के एफडीआई प्रस्ताव को जल्द मंजूरी देगी सरकार: बादल

नयी दिल्ली, 13 जून : खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने आज कहा कि अमेरिकी खुदरा कंपनी द्वारा भारत में उत्पादित खाद्य उत्पादों के खुदरा कारोबार में 50 करोड़ डालर के प्रस्तावित निवेश को सरकार जल्द ही मंजूरी देगी।

यहां एक कार्यक्रम के अवसर पर बादल ने संवाददाताओं से कहा एफआईपीबी को समाप्त किए जाने के कारण कुछ देरी हुई। अमेजन के प्रस्ताव को जल्द ही मंजूरी दी जाएगी।

विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड र्एफआईपीबी को समाप्त किए जाने के कारण अमेजन के प्रस्ताव को अब औद्योगिक नीति एवं संवर्धन बोर्ड डीआईपीपी द्वारा मंजूरी दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि भारत दुनिया में सब्जियों व फलों का सबसे बड़ा उत्पादक होने के बावजूद यहां प्रसंस्करण स्तर बहुत ही कम 10 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि विदेशी निवेश के साथ नयी प्रौद्योगिकी, उत्पाद व बाजार मिलेगा।

हरसिमरत ने कहा कि फसल कटाई के बाद व परिवहन के दौरान होने वाले भारी नुकसान हो देखते हुए खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में और अधिक निवेश समय की जरूरत है।

सरकार को तीन कंपनियों अमेजन, ग्रोफर्स तथा बिग बास्केट से खाद्य उत्पादों में खुदरा कारोबार के लिए 69.5 करोड़ डालर मूल्य के निवेश प्रस्ताव मिले।

अमेरिकी खुदरा कंपनी अमेजन भारत में आनलाइन क्षेत्र की प्रमुख कंपनियों में से एक है। ग्रोफर्स व बिग बास्केट आनलाइन ग्रोसरी खंड में है। अमेजन ने खाद्य उत्पादों में लगभग 50 करोड़ डालर निवेश करने का प्रस्ताव किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *