जयराम रमेश बोले- मोदी, शाह से निपटने के लिए कुछ नहीं किया तो खत्‍म हो जाएगी कांग्रेस

देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी इंडियन नेशनल कांग्रेस अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है। ये कहना है दिग्गज कांग्रेसी नेता जयराम रमेश का। राज्य सभा सांसद जयराम रमेश ने समाचार एजेंसी पीटीआई को दिए इंटरव्यू में कहा है, “कांग्रेस पार्टी बहुत गंभीर संकट से गुजर रही है।” रमेश ने कहा, “कांग्रेस 1996 से 2004 तक चुनावी संकट से गुजरी थी जब वो सत्ता से बाहर थी। पार्टी 1977 में भी चुनावी संकट में फंस गई थी जब वो आपातकाल के बाद चुनाव हार गई थी।” लेकिन जयराम रमेश के अनुसार अब कांग्रेस जिस संकट से गुजर रही है वो पिछले संकटों से काफी अलग है।

जयराम रमेश ने कहा, “लेकिन आज, मैं कहूंगा कि कांग्रेस अस्तित्व के संकट से गुजर रही है। ये चुनावी संकट नहीं है। पार्टी सचमुच गहरे संकट में है।” जयराम रमेश मंगलवार (आठ अगस्त) को राज्य सभा चुनाव के लिए होने वाली वोटिंग से पहले गुजरात के विधायकों को कर्नाटक ले जाने से जुड़े सवाल का जवाब दे रहे थे। हालांकि रमेश ने कांग्रेसी विधायको को कर्नाटक ले जाने के फैसले का बचाव करते हुए कहा कि बीजेपी विधायकों की “खरीदफरोख्त” करवा रही है और अतीत में बीजेपी भी अपने विधायकों को बाहर ले जा चुकी है।

जयराम रमेश मानते हैं कि आगामी आम चुनाव में नरेंद्र मोदी और अमित शाह के खिलाफ केवल “सत्ता-विरोधी लहर” के भरोसे रहना काफी नहीं होगा। रमेश ने कहा, “हमें समझना होगा कि हम मोदी और शाह के खिलाफ लड़ रहे हैं, और उनकी सोच अलग है, उनके काम करने का तरीका अलग है, और अगर हम लचीले तरीके से काम नहीं लेंगे तो हम अप्रासंगिक हो जाएंगे।” रमेश ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को समझना होगा कि भारत काफी बदल चुका है। रमेश ने कहा, “पुराने नारे अब काम नहीं करते, पुराने समीकरण काम नहीं करते, पुराने मंत्र काम नहीं करते। भारत बदल चुका है और कांग्रेस पार्टी को भी बदलना होगा।”

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल गुजरात से लगातार पांचवीं बार राज्य सभा चुनाव लड़ रहे हैं लेकिन इस बार उनकी जीत को लेकर आशंकाएं जताई जा रही हैं। कांग्रेस के 44 विधायक सोमवार (सात अगस्त) को गुजरात वापस लौटे। राज्य सभा चुनाव में जीत के लिए 45 विधायकों का वोट चाहिए। लेकिन पिछले कुछ हफ्तों में छह कांग्रेसी विधायक पार्टी छोड़ चुके हैं। वहीं मौजूदा 50 विधायकों में से 44 ही कर्नाटक गए जिसकी वजह से बाकी छह की पक्षधरता को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी गुजरात से राज्य सभा चुनाव लड़ रहे हैं। वहीं बीजेपी में शामिल हो चुके पूर्व कांग्रेसी बलवंत सिंह राजपूत भी राज्य सभा चुनाव में उम्मीदवार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *