समाज्ञा

सुरक्षाबलों का दावा, 15 नक्सली मारे गए

रायपुर, 17 मई : छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में 15 नक्सलियों को मार गिराने का दावा किया है। हालांकि इस दौरान किसी भी नक्सली का शव बरामद नहीं हुआ है।

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के विशेष महानिदेशक :केंद्रीय अंचल: कुलदीप सिंह ने आज यहां भाषा को बताया कि बुरकापाल हमले के बाद नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में नक्सलियों के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। इस महीने की 12 से 16 तारीख के बीच नक्सलियों के खिलाफ एक बड़ा अभियान चलाया गया जिसमें सीआरपीएफ, जिला बल, डीआरजी और एसटीएफ के जवान शामिल थे। अभियान के दौरान सुरक्षाबलों के जवानों ने 15 नक्सलियों को मार गिराया है।

सिंह ने बताया कि पुलिस दल ने इस दौरान किसी भी नक्सली का शव और हथियार बरामद नहीं किया है। हालांकि अभियान में शामिल सुरक्षाबलों के जवानों और ग्रामीणों ने क्षेत्र में कम से कम 15 नक्सलियों के मारे जाने की जानकारी दी है।

इधर, दंतेवाड़ा क्षेत्र के उप पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी ने बताया कि बीजापुर जिले के बासागुड़ा और आवापल्ली क्षेत्र में सुरक्षाबल के संयुक्त दल को रवाना किया गया था। रविवार सुबह और शाम को सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें एसटीएफ का एक जवान शहीद हुआ था तथा दो पुलिस जवान घायल हुए थे।

सुंदरराज ने बताया कि पुलिस दल ने नक्सलियों के खिलाफ जवाबी कार्रवाई की थी। इस घटना में नक्सलियों को काफी नुकसान पहुंचा है। इसमें 12 से 15 नक्सलियों के मारे जाने की जानकारी है। यह भी जानकारी मिली है कि नक्सली मारे गए अपने साथियों के शवों को ले जाने में कामयाब रहे हैं।

राज्य पुलिस और सीआरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि नक्सली गतिविधि की सूचना के बाद ही क्षेत्र में नक्सलियांे के खिलाफ अभियान शुरू किया गया था।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि क्षेत्र में बारिश से पहले नक्सलियों के खिलाफ अभियान तेज कर दिया गया है। बारिश के दौरान दक्षिण बस्तर क्षेत्र में नदियों का जलस्तर बढ़ जाता है, जिससे सुरक्षाबलों को अभियान में परेशानी का सामना करना पड़ता है।