समाज्ञा

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का ब्लड शुगर लेवल काफी बढ़ा, इलाज के लिए बेंगलुरु जाएंगे

नई दिल्ली: दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पिछले कुछ महीनों से राजनीतिक व्यस्तता के कारण दौरों पर ही रहे. पंजाब और गोवा में पार्टी को जीत दिलाने के लिए उनके साथ उनके पार्टी के कई कार्यकर्ता लगातार प्रयासरत रहे हैं. पंजाब में शनिवार 4 फरवरी को वोटिंग के बाद अब अरविंद केजरीवाल कुछ समय अपने शरीर को देंगे. जानकारी के अनुसार पिछले काफी समय से अरविंद केजरीवाल को ब्लड शुगर (मधुमेह) की समस्या है. अब जानकारी मिली है कि उनका ब्लड शुगर लगातार खतरनाक स्तर पर बना हुआ है. उनके करीबियों का कहना है कि 300-450 के बीच ब्लड शुगर चल रहा है. पहले जहां दिन में एक बार इन्सुलिन लेते थे, आजकल 3 बार ले रहे हैं इसलिए अब 7 फरवरी से अरविंद केजरीवाल बेंगलुरु में नैचुरोपैथी से इलाज के लिए जाएंगे.
करीबियों का कहना है कि केजरीवाल एक बार फिर इलाज के लिए बेंगलुरु के जिंदल नेचुरोपैथी सेंटर में जाएंगे. यहां पर इनका इलाज 22 फरवरी तक चलेगा. गौरतलब है कि इससे पहले अगस्त में केजरीवाल बेंगलुरु में नारायणा हेल्थ सिटी मजूमदार शा मेडिकल सेंटर में खांसी का इलाज करवाने गए थे.
मुख्यमंत्री के करीबियों की मानें तो पंजाब और गोवा विधानसभा 2017 के चुनाव प्रचार के दौरान खान-पान की अनियमितता और तनाव के चलते उनका शुगर लेवल काफी बढ़ गया है. कहा जा रहा है कि केजरीवाल को शुगर की बीमारी है. ऐसे में शुगर का लेवल बढ़ना उनके लिए खतरनाक हो सकता है.