समाज्ञा

भूस्खलन से दूसरे दिन भी बंद रहा जम्मू-श्रीनगर हाइवे

Qazigund: Trucks stranded on the Srinagar-Jammu National Highway at Qazigund on Friday. The highway remained closed on the 5th consecutive day due to heavy snowfall and landslides. PTI Photo(PTI3_6_2015_000067B)

श्रीनगर
जम्मू कश्मीर में कुछ जगहों पर भूस्खलन के मद्देनजर शनिवार को लगातार दूसरे दिन श्रीनगर-जम्मू हाइवे यातायात के लिए बंद रहा। भूस्खलन के कारण हाइवे पर कई जगह मलबा जमा हो गया है। यातायात बंद से होने भारी ठंड से जूझ रहे कश्मीर के लोगों की परेशानी और बढ़ गई है। कश्मीर में शुष्क मौसम और अधिकतर स्थानों पर रात का तापमान जमाव बिंदु के आसपास रहा।

एक अधिकारी ने बताया, ‘रामबन और बट्टेरी चश्मा के पास भूस्खलन हुआ है जिसके चलते राजमार्ग बंद करना पड़ा।’ अधिकारी ने बताया कि करीब 300 किलोमीटर लंबे राजमार्ग के पास कई वाहन फंसे हुए हैं और मलबा हटाए जाने के बाद ही उन्हें आगे जाने की अनुमति होगी। उन्होंने बताया, ‘कर्मचारी और मशीनरी की मदद से मलबा हटाने का काम चल रहा है जिसके बाद मौसम की स्थितियों को देखते हुए वहां फंसे वाहनों को आगे जाने की अनुमति दी जाएगी।’ बीते 48 घंटों के दौरान कश्मीर में मौसम शुष्क बना रहा लेकिन मौसम विभाग ने राज्य में अगले 24 घंटों के दौरान कहीं कम और कहीं तेज बारिश होने या हिमपात का पूर्वानुमान जताया है।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया, ‘राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में न्यूनतम तापमान एक डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान शून्य से 4.6 डिग्री सेल्सियस नीचे रहने के कारण लद्दाख क्षेत्र का लेह शहर राज्य में सबसे सर्द स्थान बना रहा।’ उन्होंने बताया कि पहलगाम में न्यूनतम तापमान शून्य से 1.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया और गुलमर्ग में यह शून्य से 4.4 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा।