राहुल गांधी के मंदिर दौरे से BJP के हिंदुत्व को चुनौती, कांग्रेस को होगा फायदा

कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले ‘आजतक’ अपने पाठकों के लिए सबसे बड़ा ओपिनियन पोल लेकर आया है. इस पोल में किस पार्टी की सरकार बनेगी, मुख्यमंत्री कौन होगा, किस धर्म, क्षेत्र, जाति को किसका चेहरा पसंद है, जैसे कई सवालों पर जनता की राय जानी गई है. इस पोल में लोगों से पूछा गया कि क्या राहुल गांधी द्वारा कर्नाटक में मंदिरों में दर्शन के लिए जाने से बीजेपी के हिंदुत्व को चुनौती मिलेगी और इसका फायदा कांग्रेस पार्टी को चुनावों में होगा?

इस सवाल का जवाब देते हुए 42 फीसदी लोगों ने माना राहुल का कर्नाटक के मंदिरों में जाना कांग्रेस के लिए आगामी चुनाव में फायदेमंद साबित होगा. वहीं इसी सवाल का जवाब देते हुए 35 फीसदी लोगों ने राहुल के मंदिर दौरे से कांग्रेस को कोई फायदा होने वाला नहीं है. सर्वे में 23 फीसदी लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने इस सवाल के जवाब में कुछ भी कहने से इनकार कर दिया.

पोल में जब लोगों से पूछा गया कि कर्नाटक में मुख्यमंत्री के तौर पर जनता किसे पंसद करती है, जवाब में लोगों ने मौजूदा सीएम सिद्धारमैया को ही अपनी पहली पसंद बताया है. पोल के मुताबिक सिद्धारमैया को 33 फीसदी लोगों ने सीएम के तौर पर अपनी पहली पसंद बताया है. वहीं बीजेपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा को 26 फीसदी जनता ने सीएम के तौर पर पसंद किया है.

राज्य में 12 मई को वोटिंग

बता दें कि 225 सदस्यीय कर्नाटक विधानसभा के लिए 224 सीटों पर एक ही चरण में मतदान 12 मई को होगा. 15 मई को वोटों की गिनती की जाएगी. चुनाव आयोग के मुताबिक 17 अप्रैल से 24 अप्रैल तक नामांकन भरे जाएंगे. इसके बाद 25 अप्रैल को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी. वहीं 27 अप्रैल तक उम्मीदवार अपना नाम वापस ले सकेंगे.

साल 2013 के विधानसभा चुनाव में राज्य की कुल 224 सीटों में से कांग्रेस ने 122 जीती थी. जबकि बीजेपी 40 और जेडीएस 40 सीटों पर कब्जा किया था. बीजेपी से बगावत कर चुनाव लड़ने वाले बीएस येदियुरप्पा की केजेपी महज 6 सीटें जीत सकी थी. इसके अलावा अन्य को 16 सीटें मिली थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *