समाज्ञा

‘अटल’ विदाई : पंचतत्‍व में विलीन हुए अटल जी

नई दिल्‍ली : पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को शुुुुक्रवार शाम राष्‍‍‍‍‍‍ट्रीय स्‍मृति स्‍थल पर हिंदू रीति रिवाज के साथ मुखाग्नि दे दी गई. वाजपेयी को उनकी दत्‍तक पुत्री नमिता कौल भट्टाचार्या ने मुखाग्नि दी. इस दौरान स्‍मृति स्‍थल पर राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत पक्ष-विपक्ष के सभी बड़े नेता मौजूद रहे. इससे पहले सेना के तीनों अंगों के प्रमुखों ने उनके पार्थिव शरीर पर पुष्‍पचक्र चढ़ाकर श्रद्धांजलि दी. वहीं, राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, उप राष्‍ट्रपति वैंकेया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा अध्‍यक्ष सुमित्रा महाजन, भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह, वरिष्‍ठ भाजपा नेता लाल कृष्‍ण आडवाणी, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के अलावा अन्‍य देशों से आए प्रतिनिधियों ने भी पुष्‍पचक्र चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की.

उनका पार्थिव शरीर सुबह उनके सरकारी आवास से बीजेपी मुख्‍यालय लाया गया था, जहां हजारों लोगों ने उनके अंतिम दर्शन किए. इसके बाद जनसैलाब के साथ उनकी अंतिम यात्रा स्‍मृति स्‍थल पहुंची.