25 छात्रों के बाल जबरन काटने के मामले में शिक्षक समेत तीन लोग गिरफ्तार

मुंबई, एक जुलाई : मुंबई में एक स्कूल के एक शिक्षक और निदेशक समेत तीन स्टॉफ कर्मियों को निर्धारित ड्रेस कोड का पालन ना करने पर सजा देने के लिए 25 छात्रों के बाल जबरन काटने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस ने आज बताया कि यह घटना विकोली उपनगर में सुबह की प्रार्थना के बाद हुई जिसके बाद कुछ छात्रों के अभिभावकों की शिकायत पर आरोपियों को कल देर रात गिरफ्तार कर लिया गया।

उन्होंने बताया कि कक्षा पांचवीं से आठवीं तक के लिए 25 लड़कों को स्कूल के आदेश के अनुसार बाल छोटे ना रखने के लिए सजा दी गई।

पुलिस ने बताया कि स्कूल ने कथित तौर पर कुछ दिन पहले छात्रों को छोटे-छोटे बाल रखने के लिए कहा था लेकिन इनमें से कुछ छात्रों ने ऐसा नहीं किया जिसके बाद स्कूल निदेशक गणेश बाटा :40:, शारीरिक प्रशिक्षण शिक्षक मिलिंद जानके :33: और कार्यालय सहायक तुषार गोरे :32: ने उन्हें सबक सिखाने का फैसला लिया।

उन्होंने बताया कि तीनों ने कथित तौर पर बड़ी संख्या में छात्रों के बाल काटे। कैंची से दो लड़के घायल भी हो गए थे।

पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक श्रीधर हनचटे ने पीटीआई-भाषा से कहा, हमने तीनों आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 324 :जानबूझकर खतरनाक हथियारों से चोट पहुंचाना: धारा 335 :उकसाने पर जानबूझकर गंभीर चोट पहुंचाने: और धारा 34 :एक ही मंशा से कई लोगों द्वारा किए गए कृत्य: तथा जुवेनाइल जस्टिस एक्ट की धारा 75 के तहत मामला दर्ज किया और इसके बाद गिरफ्तारियां की गई। उन्होंने बताया कि सभी आरोपियों को आज एक स्थानीय अदालत में पेश किया गया। मामले की जांच चल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *