समाज्ञा

रोहतक गैंगरेप और हत्या मामला फास्ट ट्रैक अदालत में चलेगा

चंडीगढ़, 15 मई :भाषा: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज कहा कि 23 वर्षीय दलित महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के मामले की सुनवाई सोनीपत में फास्ट ट्रैक अदालत में होगी।

उन्होंने कहा, ‘‘एक स5य समाज में इस तरह के घृणित अपराध को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जायेगा और दोषियों को सजा मिलेगी।’’ महिला नौ मई को सोनीपत से लापता थी और 11 मई को रोहतक के अर्बन स्टेट में इंडस्ट्रियल मॉडल टाउनशिप के पास उसका सड़ा हुआ क्षत-विक्षत शव मिला था। कुत्तों ने महिला के चेहरे और शरीर के कई दूसरे हिस्सों पर काट रखा था।

महिलाओं का उत्पीड़न रोकने के लिये हरियाणा सरकार द्वारा ‘‘ऑपरेशन दुर्गा’’ शुरू किये जाने के बमुश्किल एक महीने बाद यह दिल दहला देने वाली घटना हुई। अपराध की निर्ममता ने दिल्ली के ‘‘निर्भया’’ कांड की खौफनाक यादें ताजा कर दीं जिसने देशभर में महिला सुरक्षा को लेकर नई बहस और जनआंदोलन छेड़ दिया था।

पीड़ित के पोस्टमार्टम में सामने आया कि महिला के सिर की हड्डी कई टुकड़ों में टूट गई और ‘‘उसके निजी अंगों में कुछ तेजधार चीज भी घुसाई गई थी।’’ मुख्यमंत्री ने यह भी वादा किया कि राज्य के गुड़गांव में एक 22 वर्षीय महिला के साथ कथित दुष्कर्म में शामिल आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी।