इंटरनेट पर लुभावने विज्ञापन देकर लूटपाट के मामले सामने आये

मथुरा, 15 जुलाई : नकली सोने की ईंटों का झांसा देकर लूटने वाले मथुरा के ‘टटलू’ अब हाईटेक हो गए हैं। उन्होंने लूट के लिए नए शिकार फांसने हेतु इंटरनेट पर खरीद/बिक्री करने वाली वेबसाइटों का सहारा लेना शुरू कर दिया है। दो दिन में ही मथुरा व आगरा में तीन ऐसे मामले सामने आ चुके हैं जिनमें ठगों ने ऑनलाइन खरीद-बिक्री कंपनी ‘ओएलएक्स’ पर सस्ती कार बेचने का विज्ञापन देकर दूरदराज के ग्राहकों को अपनी चुनी हुई जगहों पर बुलाया और जब वे वहां पहुंचे तो किसी न किसी बहाने उन्हें लूट लिया।

शुक्रवार को मथुरा में एक मामला वृन्दावन कोतवाली क्षेत्र में देखने को मिला। जहां कथित स्विफ्ट डिजायर गाड़ी मालिक ने वेबसाइट पर विज्ञापन देकर गुरूवार को गुजरात के अहमदाबाद की आशियाना सोसायटी निवासी अरशद पुत्र रज्जब भाई मंसूरी को दिल्ली-आगरा रोड पर छटीकरा में बुलाया।

अरशद अपने एक अन्य साथी सहित वहां पहुंचे। दो व्यक्ति वहां स्कोर्पियो गाड़ी में पहुंचे और उन्हें अपने साथ बिठाकर राल होते हुए भदाल गांव ले गए। वहां से उन्होंने दो अन्य साथियों को गाड़ी में बिठाया और आगे बढ़ लिए।

शंका होने पर जब अरशद ने उन्हें गाड़ी दिखाने को कहा तो वे मारपीट पर उतर आए और उनसे ढाई लाख रुपए की नकदी सहित 4 कीमती मोबाइल फोन भी छीन लिए। काफी प्रयास के बाद उनकी रिपोर्ट लिखी गई।

थानाध्यक्ष विनोद पायल का कहना है कि इस मामले में विशेष पुलिस टीम का गठन किया गया है और जल्द ही लुटेरों को पकड़ लिया जाएगा।

दूसरा मामला गोवर्धन थाना क्षेत्र में पेश आया। जहां मुड़सेरस गांव के कुछ अन्य टटलुओं ने मुजफ्फरनगर के नई मण्डी थाने के पंजैड़कलां गांव निवासी महीपाल सिंह को शिकार बनाया। उन लोगों ने महीपाल से 60 हजार रुपए छीन लिए। महीपाल ने इस मामले में थाना पहुंचकर इंस्पेक्टर कमलेश सिंह को पूरी आपबीती सुनाकर मुकदमा दर्ज कराया।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ऐसा ही एक मामला आगरा जनपद के कागारौल में भी सामने आया है। लेकिन, वहां लूटे गए लोगों की खुशकिस्मती से पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए दो लुटेरे भागते समय पकड़ लिए। इस वारदात में लुटेरों ने गुजरात के व्यापारी से सवा लाख लूट लिए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *