क्या देश में आर्थिक इर्मजेंसी है :  ममता

-कहा, नोटबंदी के दिन आए याद
-कैश की किल्लत, कैशलेश एटीएम

कोलकाता, समाज्ञा

राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली के अलावा कोलकाता सह राज्य के जिलों में अचानक एटीएम में कैश नहीं होने की लगातार खबरें आ रही हैं। महानगर, हावड़ा, हुगली, उत्तर व दक्षिण 24 परगना सह शिल्पांचल के इलाकों में भी एटीएम व बैंकों में कैश की काफी कमी होने की शिकयतें पहुंच रही हैं। जिन एटीएम या बैंकों में कैश होने की जानकारी लोगों तक पहुंच रही है, वहां लोगों की लंबी कतारें देखी जा रही हैं। ऐसे में लोगों की परेशानी पर चिंता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि देश के कई राज्यों में एटीएम कैशलेस होने की खबरें मिल रही हैं। बड़े नोट नहीं मिल रहे हैं। इसे देख कर नोटबंदी के वे पुराने दिन फिर ताजा हो रहे हैं। ममता ने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए सवाल किया कि क्या देश में आर्थिक आपातकाल की स्थिति जारी है??उन्होंने आगे काफी सांकेतिक शब्दों को प्रयोग करते हुए कहा कि कैश की किल्लत है तथा एटीएम कैशलेस हो गए हैं।

मालूम हो कि देश की राजधानी समेत कम से कम एक दर्जन राज्यों से एटीएम में कैश की किल्लत की खबरें आ रही हैं। एटीएम में कैश नहीं है। शिकायत है कि कई बैंक शाखाओं में भी ग्राहकों को मांग के अनुसार कैश नहीं मिल रहा है। स्थिति पर केंद्र सरकार व आरबीआई ने स्पष्टिकरण जारी करते हुए कहा है कि 10/12 दिनों में लोगों ने लगभग 3 गुणा कैश की निकासी की है। इससे कैश की किल्लत की समस्या खड़ी हुई है। लेकिन बैंकों व आरबीआई के पास नगदी की कमी नहीं है तथा स्थिति जल्द ही सामान्य हो जाएगी। इस बीच कोलकाता आरबीआई सूत्रों का कहना है कि 2000 के नोट की बाजार में काफी कमी देखी जा रही है। लगता है कि लोग बचत के इरादे से 2000 के नोट को जमा कर रहे हैं। लेकिन स्थिति पर नजर है तथा स्थिति जल्द ही सामान्य हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *