दुबई से बड़ाबाजार में सोना तस्करी का भंडाफोड़

 
लगभग एक करोड़ का सोना जब्त, एक गिरफ्तार
कोलकाता, समाज्ञा
लगभग 3 महीने पहले की घटना है। ग्प्त सूचना के आधार पर बड़ाबाजार थाना पुलिस ने प्राय: 70 लाख रुपये के कीमत के अवैध सोने जब्त किये थे। एक व्यक्ति को इस मामले में गिरफ्तार किया गया था। मामले की जांच श्ाुरू होने पर पता चला था एक चक्र का जो सोने की तस्करी में माहिर है। इस चक्र के तहत मध्य पूर्व इलाके से सोना बंगलादेश होकर भारत में लाया जाता है। यहां त्रिपुरा से सोना को पूर्वी भारत के विभिन्न राज्यों के बाजारों तक पहुंचया जाता है। इस जानकारी के प्राप्त होते ही बड़ाबाजार थाना ओसी सौम्य बनर्जी के नेतृत्व में 4 अफसरों की एक विशेष दल बनाई गयी। इस दल में एसआई बोधिसत्व प्रमाणिक, मानस गोस्वामी, राजीव बसू व सेंट्रल डिविजन के सार्जेट सोमनाथ घोष शामिल थे। दम के गठन के बाद उन्हें त्रिपुरा भेजा गया जहां उन्होंने पूरे मामले की छानबीन की। वहीं कुछ लोगों को संदेह के आधार पर चिह्नित भी किया गया और उनपर नजरदारी की गयी।

 
इस बीच उन्हें सूचना मिली की एक व्यक्ति बड़ी संख्या में अवैध सोना लेकर कंचनजंघा एक्सप्रेस से कोलकाता आने वाला है। जानकारी मिलती दल वहां पहुंची और देखा की सूचना सही है। उस व्यक्ति पर नजर रखने के लिए पुलिस की गठित दल भी ट्रेन में बैठ गयी और उसपर नजर रखने लगे। नके पास इस बात की जानकारी थी कि उक्त सोना बड़ाबाजार के किसी व्यवसायी को पहुंचना था। ट्रेन सियालदह पहुंचने पर पुलिस को लगा कि अभियुक्त एम.जी. रोड होते हुए सीधे बड़ाबजार जाएगा मगर ऐसा हुआ नहीं। अभियुक्त पहले धर्मतल्ला गया और वहां इधर-उधर घ्ाूमने लगा। कुछ घंटों बाद अभियुक्त स्ट्रैंड रोड होकर जैसे ही बड़ाबाजार पहुंचा पुलिस ने उसे दबोच लिया। पूछने पर उसने पहले बताया कि उसके पास कुछ नहीं है और वह बेग्ाुनाह है। हालांकि उसकी तलाशी लेने पर पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी। अभियुक्त के पास से दुबई का सोना बरामद हुआ। वह भी 25 सोने के बार जिसका वजन लगभग 2.5 किलो और कीमत लगभग एक करोड़ रुपये हैं। वहीं त्रिपुरा के अगरतल्ला का रहने वाला अभियुक्त विकास भौमिक को गिरफ्तार किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *