स्वामी विवेकानन्द व नेताजी जयंती पर छुट्टी घोषित करे केंद्र : ममता

-प्रधानमंत्री को मुख्यमंत्री ने लिखा पत्र

-दिलीप घोष ने भी प्रधानमंत्री को लिखी चिठ्ठी

कोलकाता ः राजनीति के मैदान में तृणमूल व भाजपा भले ही एक दूसरे के प्रतिद्वंद्वी हैं, लेकिन नेताजी व स्वामीजी की जयंती के मुद्दे पर दोनों के विचार एक जैसे हैं। दोनों दल ही देश के महान सपूतों की जयंती पर राष्ट्रीय छुट्टी घोषित करने के पक्ष में हैं। इस बारे में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर केंद्र से स्वामीजी व नेताजी की जयंती पर राष्ट्रीय छुट्टी गोषित करने की वकालत की है। वहीं, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने भी प्रदानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर एक ही मांग की है। वहीं, नेताजी की जयंती को देशप्रेम दिवस घोषित करने की मांग करते हुए नेताजी के प्रपौत्र चंद्र बोस ने भी प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने स्वयं शनिवार को सोशल मीडिया पर कहा कि स्वामीजी व नेताजी, दोनों ही राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय आइकन हैं। भारत सरकार को चाहिए कि वह दोनों की जयंती(12 व 23 जनवरी) को राष्ट्रीय छुट्टी घोषित करे। उन्होंने कहा कि इस बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। वहीं, राजनीतिक तौर पर तृणमूल के विरोधी भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने भी दोनों महान सपूतों की जयंती पर राष्ट्रीय छुट्टी घोषित करने संबंधी पत्र प्रधानमंत्री को लिखा है। हालांकि, माना जा रहा है कि दोनों पत्र के पीछे राजनीतिक सोच भी है क्योंकि वाम मोर्चा, विशेषकर फाब्ला काफी दिनों से नेताजी जयंती को देशप्रेम दिवस घोषित करने की मांग कर रही है। वहीं, नेताजी के प्रपौत्र चंद बोस राष्ट्रीय छुट्टी के पक्ष में नहीं है। उनका कहना है कि केंद्र सरकार नेताजी की जयंती राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय देशप्रेम दिवस के रूप में मनाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *