तेजस्वी ने स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय पर बोला हमला, कहा- 4 डॉक्टरों की कराई अपने घर पर तैनाती

बिहार में नीतीश सरकार के नए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने अपने घर पर चार डॉक्टरों को तैनात करवाया है। पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है और आरोप लगाया है कि मंत्री ने निजी कारणों से चार डॉक्टरों की स्थाई बहाली अपने सरकारी आवास पर कराई है। उन्होंने लिखा है, “बिहार के स्वास्थ्य मंत्री ने स्थायी रूप से अपने घर 4 डॉक्टर्स की तैनाती करवाई है। लालूजी के यहां attendant की 2 दिन की नियुक्ति राष्ट्रीय बहस थी।” इसके साथ ही तेजस्वी यादव ने स्वास्थ्य विभाग की उस चिट्ठी को भी सोशल मीडिया पर शेयर किया है, जिसके जरिए इन डॉक्टरों की तैनाती के आदेश जारी किए गए हैं।

पहली अगस्त, 2017 को जारी इस पत्र में साफ-साफ लिखा है, “माननीय मंत्री, स्वास्थ्य विभाग, बिहार पटना के आवासीय कार्यालय (क्वार्टर नं.-4, टेलर रोड, चितकोहरा पुल के पास, पटना) में निम्नांकित कार्यक्रम के अनुसार कार्य सम्पादन हेतु निम्न अपर निदेशक, स्वास्थ्य सेवाएं, बिहार को अगले आदेश तक प्रतिनियुक्त किया जाता है।” जिन डॉक्टरों की तैनाती की गई है, उनमें डॉ. कृष्ण मोहन पूर्वे, डॉ. नंद कुमार मिश्रा, डॉ. नरेंद्र भूषण और डॉ. नागेश्वर प्रसाद का नाम शामिल है।

तेजस्वी ने दूसरे ट्वीट में लिखा है, “नीतीश जी का हजारों करोड़ का सृजन महिला घोटाला उजागर होने के बाद स्वास्थ्य मंत्री की हालत इतनी बिगड़ गयी कि घर पर 4-4 डॉक्टर्स की तैनाती कर ली।” गौरतलब है कि महागठबंधन सरकार के दौरान जब तेज प्रताप यादव स्वास्थ्य मंत्री थे, तब लालू प्रसाद यादव की देखभाल के लिए भी कुछ डॉक्टरों की तैनाती मंत्री के आवास पर की गई थी। उस वक्त विपक्षी दल भाजपा ने खूब हंगामा किया था।

नीतीश जी का हजारों करोड़ का सृजन महिला घोटाला उजागर होने के बाद स्वास्थ्यमंत्री की हालत इतनी बिगड़ गयी कि घर पर 4-4 डॉक्टर्स की तैनाती कर ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *