Breaking News
Home / Business / अब नहीं होगी परेशानी, बैंकों में ही बन सकेंगे आधार कार्ड

अब नहीं होगी परेशानी, बैंकों में ही बन सकेंगे आधार कार्ड

नई दिल्लीः सरकार आधार कार्ड के लिए नई व्यवस्था शुरु करने जा रही है। ये नई व्यवस्था सरकार द्वारा इसलिए शुरु की जा रहा क्योंकि आधार कार्ड को बैंक खाते से लिंक करवाने में लोगों को काफी दिक्कतें आ रही हैं। किसी के फिंगरप्रिंट मैच नहीं कर रहे हैं तो किसी के नाम और पते में दिक्कतें आ रही हैं। नई व्यवसथा के तहत आप किसी भी सरकारी या प्राईवेट बैंक में जा कर अपना आधार कार्ड यां उसमें किसी भी तरह का अपडेट कर सकते है।

अब नहीं होगी परेशानी, बैंकों में ही बन सकेंगे आधार कार्ड 

 

नई दिल्लीः सरकार आधार कार्ड के लिए नई व्यवस्था शुरु करने जा रही है। ये नई व्यवस्था सरकार द्वारा इसलिए शुरु की जा रहा क्योंकि आधार कार्ड को बैंक खाते से लिंक करवाने में लोगों को काफी दिक्कतें आ रही हैं। किसी के फिंगरप्रिंट मैच नहीं कर रहे हैं तो किसी के नाम और पते में दिक्कतें आ रही हैं। नई व्यवसथा के तहत आप किसी भी सरकारी या प्राईवेट बैंक में जा कर अपना आधार कार्ड यां उसमें किसी भी तरह का अपडेट कर सकते है।
PunjabKesari
सरकारी और प्राइवेट बैंकों में होगी यह सुविधा
सरकारी बैंकों के साथ ही प्राइवेट बैंकों में भी यह सुविधा उपलब्ध होगी। ये बैंक अपने ग्राहकों को ही आधार संबंधी सेवाएं प्रदान करेंगे। ग्राहकों को अपने आधार में किसी भी तरह के अपडेट या फिर नया आधार कार्ड बनवाने के लिए आधार सेंटर पर जाने की जरूरत नहीं होगी। सरकार ने बैंक खाते से आधार लिंक करने के लिए 31 दिसंबर 2018 तक का वक्त दिया है इसके बाद जिन खातों से आधार लिंक नहीं है, वे ब्लॉक कर दिए जाएंगे और आधार कार्ड लिंक होने के बाद ही एक्टिव हो सकेंगे।

बड़ी संख्या लोगों के आधार कार्ड अपडेट नहीं
वित्त मंत्रालय ने 1 जून को नोटिफिकेशन जारी किया था कि सभी बैंख खातों से आधार नंबर लिंक होना जरूरी है। यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया के सीईओ अजय भूषण पांडेय ने कहा कि अधिकांश बैंकों ने आधार से खाते को लिंक करने की ऑनलाइन सुविधा उपलब्ध कराई है, लेकिन बड़ी संख्या में लोग ऐसे भी हैं, जिनके आधार अपडेट नहीं हैं। किसी को पता बदलवाना है तो किसी को फोटो अपडेट करवाना है। इसे देखते हुए नियम बनाया जा रहा है कि सभी बैंकों को अपने परिसर में आधार कार्ड बनवाने या अपडेट करवाने की सुविधा देना होगी।

डिटेल्स के मेल नहीं खा रही तो करवाए अपडेट
यदि किसी खाताधारक के पास आधार है, लेकिन उसकी डिटेल्स बैंक की डिटेल्स के मेल नहीं खा रही है, तो भी बैंक को ही आधार अपडेट करना होगा। अभी तक, केवल सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक यूआईडीएआई में रजिस्टर करा सकते थे। यह बैंकों पर निर्भर करता था कि वह इस सुविधा को चाहते हैं या नहीं लेकिन यू.आई.डी.ए.आई. ने अब आधार (नामांकन और अपडेट) नियमों में संशोधन किया है ताकि सभी बैंक यू.आई.डी.ए.आई. पंजीयक बन सकें ताकि आधार में संशोधन आदि के लिए ग्राहकों को भटकना न पड़े। 

 

About Samagya

Check Also

क्‍या सरकार 2000 रुपये का नोट बंद कर रही है? विपक्ष के सवाल का मिला ये जवाब

Share this on WhatsAppविपक्षी सदस्यों ने आज राज्यसभा में वित्त मंत्री अरूण जेटली से यह …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *