Breaking News
Home / Business / Economy / एसबीआई ने घटायी बचत खातों में ब्याज की दर, 4 फीसदी से घटकर हुई 3.5 प्रतिशत

एसबीआई ने घटायी बचत खातों में ब्याज की दर, 4 फीसदी से घटकर हुई 3.5 प्रतिशत

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने जुलाई के अंतिम दिन, यानी 31 जुलाई से बचत खातों पर ब्याज की प्रणाली को दो-स्तरीय बना दिया है. एक करोड़ रुपये से कम की जमा पर ब्याज दर को 4 फीसदी से घटाकर 3.5 प्रतिशत कर दिया गया है, जबकि एक करोड़ रुपये से ज़्यादा की जमा पर 4 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा. देश के सबसे बड़े  बैंक एसबीआई ने एक बयान में कहा है, “मुद्रास्फीति की दर में कमी तथा वास्तविक ऊंची ब्याज दरों की वजह से बचत खातों पर दिए जाने ब्याज की दर में बदलाव करना ज़रूरी हो गया था…”

बैंक ने यह भी कहा कि उन्होंने बचत तथा चालू जमा खातों में नोटबंदी के बाद आए भारी नकदी प्रवाह को ध्यान में रखते हुए अपने मुख्य ऋण दर या मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेल्ड लेंडिंग रेट (एमसीएलआर) को भी 90 आधार अंक घटा दिया है, और यह बदलाव 1 जनवरी, 2017 से प्रभावी होगा.

इस घोषणा के बाद एसबीआई के शेयरों में तीन फीसदी तक का उछाल आया है. विश्लेषकों का कहना है कि बचत खातों में जमा में कमी आने से ऋणदाता के मार्जिन को मदद मिलेगी. विश्लेषकों के अनुसार, अन्य बैंक भी एसबीआई का अनुसरण कर सकते हैं, और बचत खातों पर दिए जाने ब्याज में कटौती कर सकते हैं.
माना जा रहा है कि 2 अगस्त को होने वाली बैठक में रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) भी ब्याज दरों में कटौती कर सकता है, लेकिन रॉयटर के एक पोल के अनुसार, इसके बाद लम्बे समय तक उसे नहीं बदला जाना मुमकिन है, क्योंकि अर्थव्यवस्था में लगातार सुधार हो रहा है.

About Samagya

Check Also

ममता बनर्जी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, GST को बताया ‘ग्रेट सेल्फिश टैक्स’

Share this on WhatsAppकोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जीएसटी के मुद्दे में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *