गुड़गांव स्कूली बच्चे की हत्या : हरियाणा के सभी स्कूलों में सुरक्षा मजबूत की जाएगी, मुख्यमंत्री ने कहा

नयी दिल्ली, नौ सितंबर : गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में सात साल के एक बच्चे की हत्या से छाये रोष के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने समूचे राज्य के स्कूलों में सुरक्षा बंदोबस्त की समीक्षा करने और उसे मजबूत करने का आज आदेश दिया। खट्टर ने कहा, ‘‘अतिरिक्त मुख्य सचिव (शिक्षा) को सुरक्षा, सीसीटीवी कैमरे के बंदोबस्त की समीक्षा करने तथा सभी स्कूलों में मुहैया की जा रही सुविधाओं की समीक्षा करने को कहा गया है ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं का दोहराव नहीं हो सके। ’’ मुख्यमंत्री आज यहां आए हुए थे। उनसे मृतक के परिवार द्वारा सीबीआई जांच की मांग किए जाने पर टिप्पणी करने को कहा गया।

इस पर खट्टर ने कहा, ‘‘यदि मामले के सारे तथ्य सामने आ गए तो और किसी जांच की जरूरत नहीं होगी। लेकिन यदि हम पाते हैं कि तथ्य छिपाए जा रहे हैं या इस मामले में कुछ बड़ी चीज सामने आ सकती है तो हम किसी भी तरह की जांच के लिए तैयार हैं। ’’ स्कूल की ओर से बरती गई कथित लापरवाही के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ) को यथाशीघ्र एक रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है।

उन्होंने भरोसा दिलाया कि यदि सुरक्षा के मोर्चे पर कोई चूक पाई गई तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि स्कूल की कार्यवाहक प्राचार्य को स्कूल प्रबंधन ने निलंबित कर दिया है।

मुख्यमंत्री ने इस घटना को जघन्य और दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

उन्होंने बताया कि संबद्ध अधिकारियों को इस सिलसिले में औपचारिकताएं पूरी करने और सात दिनों में चालान दाखिल करने को कहा गया है।

खट्टर ने कहा, ‘‘हम आरोपी को यथाशीघ्र सख्त सजा देने की अदालत से अपील करेंगे। ’’ इस मामले में तेजी से कार्रवाई करने के लिए जिला प्रशासन की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि स्कूल बस कंडक्टर को गिरफ्तार कर लिया गया है।

उन्होंने कहा, ‘‘शुरूआती जांच से इस बात का खुलासा हुआ है कि बस कंडक्टर इस अपराध में संलिप्त था। ’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि स्कूल की सुरक्षा एजेंसी की ओर से चूक पाई गई, तो उस पर कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने बच्चे के परिवार के प्रति सहानूभूति प्रकट की।

हरियाणा के पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरवीर सिंह मृतक के परिवार से मिलने भोंडसी गए। इस बीच, गुड़गांव की एक अदालत ने आरोपी अशोक कुमार को तीन दिनों की पुलिस रिमांड में भेज दिया।

हरियाणा के शिक्षा मंत्री राम विलास शर्मा ने कहा कि लापरवाह शैक्षणिक संस्थानों को नहीं बख्शा जाएगा और सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि वह बच्चे के माता पिता को सांत्वना देने के लिए 10 सितंबर को गुड़गांव जाएंगे। उन्होंने कहा कि स्कूल प्रबंधन को चालकों और कंडक्टरों के व्यवहार पर गौर करना चाहिए तथा सुरक्षित परिवहन सुनिश्चित करना चाहिए।

गौरतलब है कि सात साल के इस बच्चे पर कल स्कूल में किसी धारदार हथियार से हमला किया गया था । बाद में अस्पताल में उसकी मौत हो गई थी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *