Breaking News
Home / News / India / दलितों और आदिवासियों के मामलों की सुनवाई के लिए पूरे देश में हों विशेष पुलिस थाने : आयोग

दलितों और आदिवासियों के मामलों की सुनवाई के लिए पूरे देश में हों विशेष पुलिस थाने : आयोग

इंदौर, आठ सितंबर (भाषा) दलितों और आदिवासियों के खिलाफ होने वाले अपराधों की जांच के लिये मध्यप्रदेश में विशेष पुलिस थानों की व्यवस्था की राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष एल. मुरूगन ने आज तारीफ की। उन्होंने कहा कि इस प्रणाली को पूरे देश में लागू ​किया जाना चाहिये। मुरूगन ने यहां एक बैठक में शामिल होने के बाद संवाददाताओं से कहा, “अनुसूचित जा​ति-जनजाति वर्ग के लोगों पर अत्याचारों की जांच के लिये मध्यप्रदेश के हर जिले में विशेष पुलिस थाने हैं। यह एक श्रेष्ठ व्यवस्था है. पूरे देश में ऐसी व्यवस्था होनी चाहिये।” उन्होंने कहा कि इन दिनों राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग दलित वर्ग के लोगों में उद्यमिता के विकास पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। आयोग इस मकसद के लिये भी कोशिश कर रहा है कि दलितों पर अत्याचार के मामलों में पीड़ित लोगों को जल्द से जल्द इंसाफ मिल सके।

मुरूगन ने यहां सरकारी अधिकारियों और जन प्रतिनिधियों के साथ आयोजित बैठक में अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत दर्ज तथा लंबित प्रकरणों के निराकरण की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने यह सुनिश्चित किये जाने के निर्देश दिये कि ऐसे मामले लंबे समय तक विचाराधीन न रहें।

मुरूगन ने सरकारी अफसरों से कहा कि नियमानुसार जाति प्रमाण-पत्र बनाने के काम में तेजी लायी जाये। इसके साथ ही, उन्होंने सफाईकर्मियों और दलित समुदाय के अन्य दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों के नियमितीकरण के संबंध में जानकारी लेकर अफसरों को आवश्यक निर्देश दिए।

About Samagya

Check Also

माँ ममता: आगामी पूजा के लिए दीदी ममता बनर्जी के रूप में बंगाल मंडल दुर्गा को डिजाइन

Share this on WhatsAppआगामी मेगा बोनान्जा के लिए देवी दुर्गा की एक मूर्ति बंगाल के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *