समाज्ञा

पीवी सिंधु वर्ल्ड बैडमिंटन चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचीं, सेमीफाइनल में वर्ल्ड नंबर 2 यामागुची को हराया

Seoul: India's Pusarla V. Sindhu returns a shot against Japan's Nozomi Okuhara during women's single final match at the Korea Open Badminton in Seoul, South Korea, Sunday, Sept. 17, 2017. AP/PTI(AP9_17_2017_000042A)

बीजिंग :वर्ल्ड बैडमिंटन चैम्पियनशिप में पीवी सिंधु शनिवार को जापान की अकाने यामागुची को हराकर फाइनल में पहुंच गईं। वर्ल्ड नंबर 3 सिंधु ने यामागुची को सीधे सेटों में 21-16, 24-22 से मात दी। फाइनल में सिंधु का मुकाबला दुनिया की 8वीं नंबर की खिलाड़ी स्पेन की कैरोलिना मारिन से होगा। मारिन ने सेमीफाइनल में चीन की ही बिंगजिआओ को 13-21, 21-16, 21-13 से हराया। इससे पहले जापान की नोजोमी ओकुहारा को 21-17, 21-19 से हराकर सिंधु सेमीफाइनल में पहुंचीं थीं। सिंधु ने तीसरे दौर में दक्षिण कोरियाई शटलर और वर्ल्ड नंबर 9 सुंग जी हुन को 21-10, 21-18 से मात दी थी। वहीं, मारिन ने क्वार्टर फाइनल में भारतीय शटलर साइना नेहवाल को हराकर आखिरी-4 में जगह बनाई थी।

13वीं बार आमने-सामने होंगी सिंधु और मारिन: मारिन और सिंधु अब तक एक दूसरे के खिलाफ 12 बार कोर्ट में उतर चुकी हैं और दोनों के हिस्से में 6-6 बार जीत आई है। सिंधु और मारिन के बीच पिछला मैच इस साल जून में मलेशिया ओपन में हुआ था। तब मारिन ने सिंधु को 22-20, 21-19 से हरा दिया था।

दोनों गेम में पिछड़ने के बाद जीतीं सिंधुः सेमीफाइनल के पहले गेम में सिंधु एक समय 4-8 से पिछड़ गईं थीं। इसके बाद पहले उन्होंने 8-8 से बराबरी हासिल की फिर 12-12 के स्कोर पर लगातार 6 अंक लेकर 18-12 की बढ़त बनाई। इसके बाद उन्होंने 21-16 से गेम अपने नाम कर लिया।

दूसरे गेम में जापानी खिलाड़ी ने बेहतर शुरुआती की। नागामुची लगातार अंक लेते हुए एक समय 19-12 की मजबूत स्थिति में पहुंच गईं थीं, लेकिन सिंधु ने शानदार वापसी की। उन्होंने लगातार 7 अंक लिए और 19-19 से स्कोर बराबर किया। इसके बाद ड्यूस (20-20, 21-21, 22-22) हुआ। इसके बाद सिंधु ने लगातार दो अंक लिए और 24-22 से गेम और मैच अपने नाम कर लिया।