पाक गोलीबारी के दौरान J&K बॉर्डर पर लोग ले सकेंगे शरण

जम्मू: नियंत्रण रेखा के पास ‘ सीमा भवनों ’ के निर्माण के सिलसिले में पुंछ और राजौरी जिले के अधिकारियों ने भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया में आ रही रुकावटों को हटाने के लिए अलग – अलग बैठक बुलाई. नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तानी गोलीबारी से सीमावर्ती गांवों के निवासियों को अपना घर छोड़ने पर मजबूर होना पड़ता है. ये ‘ सीमा भवन ’ ऐसे लोगों को आवास उपलब्ध कराएंगे.

एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि शुक्रवार को एक बैठक में पुंछ के जिला विकास आयुक्त मोहम्मद एजाज असद ने अधिकारियों को ‘सीमा भवनों’ के निर्माण के लिए जमीन निर्धारण की प्रक्रिया पूरी करने के निर्देश दिए. प्रवक्ता ने बताया कि असद ने अधिकारियों से शरणस्थलियों के लिए सुरक्षित स्थानों पर जमीन की पहचान करने को कहा. अभी पाकिस्तान की ओर से हमला होने की स्थिति में विस्थापितों को शैक्षणिक संस्थानों जैसी सरकारी इमारतों में रखा जाता है. बैठक के दौरान बंकरों के निर्माण पर भी चर्चा हुई.

वहीं एक प्रवक्ता ने बताया कि पड़ोसी जिले राजौरी में जिले के अतिरिक्त विकास आयुक्त ए एस चिब ने भी ‘ सीमा भवनों ’ के लिए जमीन निर्धारण को अंतिम रूप देने की स्थिति और बंकरों के निर्माण के लिए लोक निर्माण विभाग (पीड्ब्ल्यूडी) द्वारा शुरू की गई निविदा प्रक्रिया की समीक्षा की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *