एपीजे हाउस में लगी भयावह आग

-दमकल के 10 इंजनों की मदद से आग पर पाया गया 
-दिवाली के आगमन के अवसर पर चल रहा था कार्यक्रम  काबू

कोलकाता : दिवाली से दो दिन पहले महानगर के मशहूर बिल्डिंग एपीजे हाउस में भयावह आग लग गयी। इस घटना के बाद से इलाके के लोग सकते में हैं। सोमवार की सुबह पार्क स्ट्रीट में स्थित एपीजे हाउस में आग लगने की घटना के बाद इलाके में ट्रैफिक भी ब्ाुरी तरह प्रभावित रही। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे दमकल के 10 इंजनों की मदद से आग पर काब्ाू पाया गया। इसके साथ ही आग ब्ाुझाने के लिए हाइड्रॉलिक लैडर (सीढ़ी) की भी मदद ली गयी। बिल्डिंग में फंसे कर्मचारियों को सुरक्षित बिल्डिंग से निकालने के लिए कोलकाता पुलिस डिजास्टर मैनेजमेंट ग्रुप, सिविल डिफेंस और आपदा बलों की टीम मौके पर मौजूद थी। पुलिस सूत्रोंके अनुसार सोमवार की सुबह लगभग 11.05 बजे 7 मंजिला बिल्डिंग के पांचवें तल पर स्थित एक दफ्तर के सर्वर रूम में आग भड़क उठी। देखते ही देखते आग छठे तल्ले तक पहुंच गयी और वहां दो कमरों को अपनी चपेट में ले लिया। हालांकि फायर अलार्म बजने के बाद दफ्तर में मौजूद कर्मचारी और दूसरे लोग सुरक्षित बाहर निकल आए। दमकल के पहुंचने से पहले सुरक्षा गार्डों ने बिल्डिंग में मौजूद अग्निशमन व्यवस्था की मदद से आग पर काबू पाने की कोशिश की। सूत्रों के अनुसार इस दिन बिल्डिंग के उक्त तल्ले पर दिवाली के आगमन की ख्ाुशी में कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। घटना के वक्त इमारत के चौथे तल्ले पर स्थित एक ऑफिस के कर्मचारी ने बताया, ’आग लगने के बाद अलार्म बेल बज रही थी। पहले हमें लगा कि यह एक सामान्य मॉक ड्रिल है लेकिन बाद में सुरक्षाकर्मियों ने हमें बताया कि आग भड़क उठी है। इसके बाद हमें बिल्डिंग से सुरक्षित निकाला गया।’ एक वरिष्ठ फायर ऑफिसर ने बताया, ’सर्वर रूम में आग जहां से भड़की थी हमनें उस जगह का पता लगाया है। दमकल कर्मियों ने समय रहते आग पर काब्ाू पा लिया। ज्यादा नुकसान न हो इसके लिए हाइड्रॉलिक सीढ़ी समेत अन्य संसाधनों की मदद ली गयी।’ गौरतलब है कि इससे पहले वर्ष 2012 में एपीजे बिल्डिंग की छठी मंजिल पर स्थित एक निजी बैंक के सर्वर रूम में आग लग गई थी।

दमकल मंत्री पहुंचे घटनास्थल

एपीजे बिल्डिंग में आग लगने की घटना के तुरंत बात राज्य के दमकल मंत्री शोभन चटर्जी घटनास्थल पहुंचे और जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि आग लगने की सूचना मिलते ही मदकल के इंजम मौके पर पहुंचे और आग पर काब्ाू पाने का कामा श्ाुरू किया। बिल्डिंग में अग्निशमन व्यस्था होने की वजह से समय पर अलार्म व स्प्रिंकलर ने काम किया। वहीं आग पर काब्ाू पाके के लिए बिल्डिंग की पंप का भी इस्तेमाल किया गया। वहीं उन्होंने कहा कि मौके की गंभीरता को देखते हुए लैडर को भी मंगवाया गया मगर उसकी जरूरत नहीं पड़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *