समाज्ञा

बाहरी ‘अपराधी’ कर रहे हिंसा : ममता

File Photo
 
-आरोप, पड़ोसी राज्य से आ रहे
-कहा, हमारे 3, उनके 2 लोग मरे
 
कोलकाता : पंचायत बोर्ड गठन को लेकर राज्य के विभिन्न जिलों से आ रही हिंसा की लगातार खबर पर प्रतिक्रिया देेते हुए नवान्न में मुख्यमंत्री ने सभी से शांति की अपील करते हुए कहा कि कानून-व्यवस्था राज्य का मामला है। उन्होंने कहा कि मालदह व अलीपुर सीमांत क्षेत्रों से अपराधियों को राज्य में प्रवेश करवाया जा रहा है। ममता ने कहा कि उनके पास सभी जिलों से खबरें आ रही हैं कि बिहार व पड़ोसी राज्यों से बाहरी(भाजपा) लोग लाए जा रहे हैं। जयपुर में वे सीधे-सीधे पुलिस के साथ भीड़ गए। उन्होंने पुलिस पर हमला किया। मुख्यमंत्री ने दावा किया कि उनके(भाजपा) 2 लोग मरे हैं जबकि हमारे(तृणमूल) 3 लोग मारे गए हैं। ममता ने आरोप लगाया कि पश्‍चिम मिदनापुर के धेड़ुआ से खबर मिली है कि केंद्रीय बल उनके(भाजपा) विजयी उम्मीदवारों को सुरक्षा प्रधान कर रहे हैं। ममता ने कहा कि सभी को शांति कायम रखनी होगी। हिंसा व गुंडागर्दी राजनीतिक दलों का काम नहीं है। ममता ने संघ को निशाना बनाते हुए कहा कि वे क्यों रुद्राक्ष बांट रहे हैं?? 
 
ज्योतिप्रिय को लताड़ा : इससे पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने  सोमवार को नवान्न में कैबिनेट की बैठक में पंचायत हिंसा पर काफी नाराजगी व्यक्ति की। उन्होंने उत्तर 24 परगना के जिलाध्यक्ष व खाद्य मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक को देगंगा में हुई हिंसा के लिए लताड़ लगाई तथा उनसे पूछा कि देगंगा में क्या हो रहा है??उन्होंने कहा कि वहां क्या हो रहा है, इस पर कड़ी नजर रखें। वहां की स्थिति को संभालें।साथ ही मुख्यमंत्री ने लगभग सभी जिलों से बोर्ड गठन को लेकर हिंसा की खबर मिलने पर नाराजगी जताते हुए सभी मंत्रियों से कहा कि वे अपने-अपने इलाकों में नजर रखें। मुख्यमंत्री ने सभी मंत्रियों को कड़ा निर्देश देेते हुए कहा कि पंचायत बोर्ड गठन के दौरान सभी को वहां(जिला) रहना होगा। कहीं पर भी कोई गड़बड़ी न हो, इस पर सभी को ध्यान रखना होगा।