महानगर के पांच कॉलेजों में बांट रहे थे जहर – कोलकाता

नशे के दो सौदागर गिरफ्तार

148 एलएसडी, एमडीएमए कैंडीज जब्त

छात्र-छात्राओं को नशे के जाल में थी उलझाने की योजना

कोलकाता, समाज्ञा

महानगर कोलकाता में भी नशे का जाल घना हो गया है। नशे के तीन सौदागरों की गिरफ्तारी के 24 घंटे भी नहीं बीते थें कि पुलिस ने महानगर कोलकाता से फिर नशे के दो सौदागरों निलय घोष व जेरोम वाट्सन को गिरफ्तार किया है। इनके पास से काफी मात्रा में मादक पदार्थ भी जब्त किये गये हैं।  निलय घोष और वॉटसन को साल्टलेक से दबोचा गया। इनके पास से 148 एलएसडी ब्लोटिंग और एमडीएमए कैंडीज और इक्सटैसी बड़ी मात्रा में बरामद किया गया है। जेरोम पेशे से इवेंट मैनेजर है। वहीं निलय एक मेडिकल स्टोर का मालिक है। जब्त की गयी ड्रग्स की कीमत करीब 8 लाख रुपए बतायी जा रही है। निलय साल्टलेक व जेरोम पार्क स्ट्रीट एरिया का रहने वाला है।  जांचकर्ता यह पता करने की कोशिश कर रहे हैं कि तस्करी के जरिये लिए यह दवा कहां से लायी गई है। नार्कोटिक्स के अधिकारियों द्वारा महानगर के औऱ भी कई जगहों पर छापे जारी रहेंगे। वहीं गिरफ्तारों से पूछताछ की जा रही है। नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के क्षेत्रीय निदेशक दिलीप श्रीवास्तव ने बताया कि इस बार एलएसडी और एमडीएमए महानगर कोलकाता में खफत के लिये लाया गया था। ताकि रेव से लेकर अन्य पार्टी में ड्रग के रूप में इसका उपयोग कॉलेजों के छात्र छात्राएं कर सकें। इनका मुख्य लक्ष्य कॉलेजों के छात्र-छात्राओं को नशे के जाल में लेना था। कई माह से  नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की ओर से इन लोगों पर लगातार नजर रखी जा रही थी। एलएसडी और एमडीएमए की लत उक्त लोग कॉलेजों के छात्र छात्राओं को लगा रहें थें। दिलीप श्रीवास्तव ने बताया कि लाल रंग की कार से दोनों ड्रग सप्लाई कर रहें थे। ज्ञात रहे कि 24 घंटे के मध्य ही महानगर कोलकाता से एनसीबी ने तीन लोगों को प्रतिबंधित दवाओं के सहित गिरफ्तार किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *