4 महीने में लोवर कोर्ट ने अपराधी को सुनायी सजा

कोलकाता : मेट्रोपॉलिटन मजिस्टेट 14 नंबर कोर्ट ने महज 4 महीने में एक महिला को इंसाफ दिलाते हुए अभी को दोषी करार दे कर उसके खिलाफ सजा सुनायी। आरोपी का नाम पयाम खान है। वह जोड़ासांको थाना इलाके का रहने वाला है। घटना गत 2 अप्रैल की शाम लगभग 6.30 बजे की है। इस दिन साउथ पोर्ट थाना अंतर्गत प्रिंसेप घाट पर अभियुक्त ने एक महिला पर धारदार हथियार से वार कर दिया था। जानकारी के अनुसार आरोपी पीड़ित महिला के भाई को दोस्त है। कुछ समय पहले आरोपी और पीड़िता के बीच संपर्क बढ़ गया और दोनों एक दूसरे के साथ मिलने लगे। इस बीच किसी कारण महिला को लगा कि पयाम उसके लिए सही इंसान नहीं है और उसने उससे दूर जाने का फैसला किया। पीड़िता ने पयाम को यह बात भी बतायी वह उससे संपर्क नहीं रखना चाहती है। यह सुन आरोपी ने पीड़िता को उससे अंतिम बार मिलने के लिए प्रिंसेप घाट बुलाया । यहां स्थित एक स्कूल की दीवार के पास अंधेरा देख वह पीड़िता को वहां ले गया। आरोप है कि वहां आरोपी ने पीड़िता की दोनों गाल पर धारदार हथियार चला दिया जिससे उसे गहरी चोटें आईं। घटना के तुरंत बाद अभियुक्त को गिरफ्तार कर साउथ पोर्ट थाने में शिकायत दर्ज करायी गयी। इस दौरान पुलिस द्वारा बताया गया था कि पीड़िता से बदला लेने के लिए उसने इस घटना को अंजाम दिया था। गिरफ्तारी के बाद कोर्ट में मामला शुरू हुआ। गत 23 मई 2018 को पयाम के खिलाफ कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल की गयी। यहां से उसे 2 महीने के लिए कस्टडियल ट्रायल में भेज दिया गया। कस्टडियल ट्रायल के बाद मंगलवार को उसे कोर्ट में पेश किया गया जहां जज ने उसे दोषी करार देते हुए 3 वर्ष कारावास व एक लाख रुपये जुर्माना , जुर्माना न चूका पाने पर अतिरिक्त 3 महीने की सजा का फैसला सुनाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *