देश बचाने भाजपा के खिलाफ एकजुट विपक्ष : नायडू

-देश के लिए सबको एक होना होगा : ममता
-कहा, 22 नव. की बैठक अब चुनावों के बाद
कोलकाता : देश बचाने के लिए भाजपा के खिलाफ विपक्ष को एक होना होगा। सोमवार को नवान्न में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी संग विपक्षी एकजुटता के मुद्दे पर रणनीतिक बैठक के बाद आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री व टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने पत्रकारों से बातचीत में ये बात कही। वहीं, नायडू के बात का समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि देश हित के लिए भाजपा के खिलाफ सबको एक होना होगा। इससे पहले ममता बनर्जी ने कहा कि 22 नवम्बर को विपक्षी दलों की दिल्ली में प्रस्तावित बैठक 5 राज्यों के चुनावों के चलते टाल दी गई है तथा यह बाद(दिसम्बर) में होगी। दोनों नेताओं के बीच लगभग डेढ़ घंटे चर्चा हुई।

नायडू तय समय से करीब एक घंटा पहले सोमवार दोपहर बाद लगभग 4.30 बजे नवान्न पहुंचे। वहां उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी संग बैठक की। बैठक के बात पत्रकारों से बातचीत में कभी एनडीए का सहयोगी रहे आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि वे ममता बनर्जी से भेंट करने पहुंचे हैं। वरिष्ठ नेता होने के चलते उनकी व ममता बनर्जी की कुछ जिम्मेवारियां भी हैं। उन्होंने कहा कि हमें राष्ट्र व लोकतंत्र को बचाना है। साथ ही संवैधानिक संस्थानों की भी रक्षा करनी है। नायडू ने कहा कि सभी देख रहे हैं कि कुछ दिनों से देश में लोकतंत्र खतरे में है। सीबीआई, ईडी, आरबीआई व अन्य संवैधानिक-वैधानिक संस्थाएं दबाव व खतरे में हैं। हमें भाजपा से इनकी रक्षा करनी है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी एक बड़ी गलती थी। रुपए का अवमूल्यन हो रहा जबकि मूद्रा स्फीती व पेट्रो पदार्थों की कीमतें उछाल मार रही हैं। देश में असहिष्णुता तेजी से बढ़ी है। अल्पसंख्यकों में भय है। यहां तक कि राजनीतिक लोगों को भी सीबीआई व अन्य संस्थानों के माध्यम से डराया जा रहा है। ऐसे में हमें देश को बचाना होगा। नायडू ने कहा कि ममता बनर्जी की सरकार पहले से ही भाजपा केखिलाफ लड़ाई लड़ रही है। उन्होंने कहा कि दिसम्बर में संसद के शीतकालीन सत्र के पहले हमें एक साथ मिलना होगा। वार्ता के द्वारा ही समस्याओं का समाधान होगा। बैठक में आगे की रणनीति पर विचार होगा। 19 जनवरी की ब्रिगेड रैली में शामिल होने के बारे में नायडू ने कहा कि ममता बनर्जी ने उन्हें आमंत्रित किया है तथा वे अवश्य ही पहुंच रहे हैं।

गठबंधन पर हुई चर्चा : ममता

वहीं, नायडू के बात का समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि देशहित में भाजपा के खिलाफ गठबंधन पर चर्चा हुई। देश के हित में बातचीत हुई। उन्होंने कहा कि जब अरविंद केजरीवाल समस्या में थे तब हम वहां पहुंचे थे। हम एक साथ काम कर रहे हैं। ममता ने स्पष्ट किया कि विपक्ष भाजपा के खिलाफ एकजुट है तथा देश को बचाना होगा। उन्होंने कहा कि 19 जनवरी को सभी आ रहे है। दिसम्बर में विपक्षी दलों की बैठक होगी। विधानसभा चुनावों की व्यस्तता कम होने पर भविष्य की रणनीति पर चर्चा होगी। मालूम हो कि चंद्रबाबू नायडू एनडीए छोड़ने के बाद से केंद्र की भाजपा सरकार के खिलाफ विपक्षी दलों को एकजुट करने की मुहिम छेड़े हुए हैं। वे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, अखिलेश यादव सह लगभग सभी प्रमुख विपक्षी दलों के नेताओं संग भेंट कर भाजपा के खिलाफ 2019 लोकसभा चुनाव में एक मंच तैयार करने की कोशिश कर रहे हैं। इससे पहले भी नायडू नवान्न में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से भेंट कर चुके हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *