शहर को तारों की जाल से मिलेगी मुक्ति – कोलकाता

केबल तारों को जमीन के नीचे से लेकर जाने की योजना

पार्क स्ट्रीट से शुरू होगी योजना

बड़ाबाजार, गार्डेनरीच, जोका से तारों को हटाना मुश्किल

कोलकाता, समाज्ञा

 शहर को तारों की झाल से मुक्ति दिलाने के लिए नगर निगम योजना तैयार कर रही है। बुधवार को कोलकाता नगर निगम में मासिक बैठक हुई। मेयर शोभन चटर्जी ने कहा कि न्यू टाउन, राजरहाट एक प्लान सिटी है। वहां के रास्ते बड़े है। जमीन के अंदर से केबल तार कैसे लेकर जाना वह सब एक योजना के तहत किया जा रहा है। जबकि, कोलकाता में जगह की कमी है। रास्ते उतने बड़े नहीं है। जमीन के अंदर से ही निकासी, केबल तार समेत अन्य लाइन गयी हुई है जिसके कारण काफी समस्याएं होती है। कोलकाता एक अनप्लान सिटी है। इस सबको देखते हुए 15 दिन पहले मंत्री फिरहाद हकीम ने एक बैठक भी की। शहर को तारों के झाल से मुक्ति कैसे दिलाया जाए उसपर चर्चा की गयी। आगे उन्होंने कहा कि इसके लिए एक कमेटी का गठन किया गया है जिसमें मंत्री फिरहाद हकीम, मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्या, मेयर शोभन चटर्जी समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल है। इस मामले को लेकर कई बार बैठक में गंभीर चर्चा की गयी। समस्या काफी जटिल है। ऐसे बहुत सारे तार है जो काम नहीं करते है। 100 में से 90 तारे किसी काम के नहीं है। लेकिन उनमें से कौन से तार काम कर रहा है, इसका पता लगाना भी काफी मुश्किल है। इन सबको देखते हुए पार्क स्ट्रीट में एक पायलट योजना शुरू की जा सकती है। पार्क स्ट्रीट के रास्तो के ऊपर की तारे अब जमीन के नीचे करने की योजान बनायी जा रही है। वहीं, बड़ाबाजार, गार्डेनरिच और जोका जैसे इलाकों में तारों की संख्या अत्याधिक है। यहां से तारों को हटाना काफी मुश्किल है।

 

One Comment on “शहर को तारों की जाल से मिलेगी मुक्ति – कोलकाता”

  1. It is appropriate time to make some plans for the future and it is time to be happy.

    I’ve read this post and if I could I desire to suggest you few interesting things or tips.
    Maybe you could write next articles referring to this article.

    I desire to read even more things about it!authentic football jerseys China

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *