भाजपा की रथ रात्रा होगी या नहीं, फैसला आज

-हाईकोर्ट ने सरकार से जवाब तलब किया
-अमित शाह शुरू करने वाले हैं शुरुआत 

कोलकाता : भारतीर जनता पार्टी (भाजपा) ने बंगाल में प्रस्तावित रथ रात्रा निकालने की अनुमति के लिए कलकत्ता उच्च न्रारालर का रुख किरा है, लेकिन रथ यात्रा तय तिथी 7 दिसम्बर से शुरू होगी या नहीं, इसका फैसला अब गरूवार को ही होगा। न्यायालय ने सरकार को गुरुवार सुबह 10.30 बजे तक अपना रुख स्पष्ट करने के लिए कहा है। इससे पहले भाजपा ने न्यायालय को बताया कि राज्र में सात दिसम्बर से तीन रैलिरां निकालने के लिए उसे अभी तक अनुमति नहीं मिली है। भाजपा अध्रक्ष अमित शाह राज्र में तीन रथ रात्रा के साथ पार्टी केे लोकतंत्र बचाओ रैली अभिरान की शुरुआत करेंगे। न्रारमूर्ति तपव्रत चक्रवर्ती की पीठ के समक्ष भाजपा ने दावा किरा कि डीजी, आईजीपी और गृह सचिव को तीन रैलिरां निकालने की अनुमति प्राप्त करने के लिए कई पत्र भेजे गए, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। इसलिए अदालत का दरवाजा खटखटाना पड़ा।

मालूम हो कि भाजपा उत्तर में कूचबिहार जिले से सात दिसम्बर को अपना अभिरान शुरू करेगी। इसके बाद 9 दिसम्बर को दक्षिण 24 परगना जिले के काकद्वीप(सागर) से और 14 दिसम्बर को वीरभूम जिले में तारापीठ मंदिर से रैली निकालेंगी। महाधिवक्ता किशोर दत्ता ने बुधवार कोअदालत को बतारा कि डीजी, आईजीपी रा गृह सचिव रैलिरों की अनुमति देने के लिए सक्षम अधिकारी नहीं है और एक राजनीतिक दल होने के नाते राचिकाकर्ता (भाजपा) को रह पता होना चाहिए। उन्होंने कहा कि राचिकाकर्ता को रह भी पता होना चाहिए कि उसे आवेदन कहां भेजना है। इसके जवाब में भाजपा के वकील ने कहा कि उन्होंने उन जिलों के एसपी से भी रथ रात्रा के लिए अनुमति मांगी है जहां से रे तीन रथ रात्रा निकाली जानी है। न्रारमूर्ति ने राज्र अधिकारिरों और राचिकाकर्ता को पहले एक साथ बैठकर मामले को निपटाने का सुझाव दिरा। दत्ता ने अदालत को बतारा कि तीनों रैलिरों के लिए भारी सुरक्षा इंतजाम की जरूरत है। इसके बाद अदालत ने कार्रवाही को अपराह्र दो बजे तक के लिए स्थगित कर दिरा। लेकिन 2 बजे के बाद भी महाधिवक्ता ने अदालत को बताया कि सुरक्षा इंतजाम व अन्य तैयारियों के बारे में आज कोई भी जानकारी दे पाना संभव नहीं है। अंतिम जानकारी गुरुवार तक ही दी जा सकती है। इसके बाद पीठ उनसे कहा कि सरकार सुबह 10.30 बजे तक अपना जवाब दे। मामले की सुनवाई गुरुवार को होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *