भदोही विस्फोट में मारे गए 13 में से 9 मालदा के निवासी थे

-पुलिस की एक टीम भदोही रवाना
-ममता ने दुख जताया, फिरहाद को भेजा

कोलकाता/मालदा : उत्तर प्रदेश के भदोही की एक दुकान में शनिवार को हुए धमाके में मरने वाले 13 लोगों में से 9 लोग पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के रहने वाले थे। जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने रह दावा किरा है। मालदा के जिलाधिकारी कौशिक भट्टाचार्र ने कहा कि जिला प्रशासन और पुलिस की 10 सदस्रीर टीम शनिवार रात भदोही के लिए रवाना हो रही है। अधिकारिरों ने बतारा कि भदोही में शनिवार दोपहर एक दुकान में हुए विस्फोट में कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई और छह घारल हो गए। इस घटना में पास में बने तीन मकान भी धाराशारी हो गए। इस बीच मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आदेश पर शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम मालहद के लिए रवाना हो गए हैं। राज्य सरकार भी पीड़ित परिजनों तथा मृतकों के शवों का वापस लाने के लिए उत्तर प्रदेश की सरकार संग संपर्क बनाए हुए हैं। ममता बनर्जी ने हादसे पर दुख जताया है।
इस बीच भदोही जिलाधिकारी राजेंद्र प्रसाद ने बतारा कि रह धमाका रोहटा बाज़ार की एक दुकान पर हुआ जिसे कालिरार मंसूरी नामक व्रक्ति चला रहा था। उसका बेटा दुकान के पीछे कालीन का कारखाना चलाता है और उसके कर्मचारी मलबे में फंसे हो सकते हैं। स्थानीर लोगों ने दावा किरा कि मंसूरी रूप से अवैध पटाखे बनाने के कारोबार में भी शामिल था। जिलाधिकारी कौशिक भट्टाचार्र ने कहा कि मालदा के नौ लोग विस्फोट में मारे गए हैं। मालदा जिलाधिकारी ने कहा कि उन्होंने इस मामले पर अपने भदोही समकक्ष से बात की। उन्होंने कहा कि दोनों जिलों के पुलिस अधीक्षक भी एक-दूसरे के संपर्क में बने हुरे हैं उन्होंने कहा कि जिले से लगभग 20 लोगों के एक दल ने हाल ही में कालीन कारखाने में काम करना शुरू किरा था। मानिकचक के खंड विकास अधिकारी सुरजीत पंडित ने कहा कि मृतकों में से 8 इनारतपुर और एक व्रक्ति मथुरापुर ग्राम पंचारत का है। मालदा के कई मजदूर दूसरे राज्रों में काम करने के लिए जाते रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *