मेरी जिंदगी का सबसे बड़ा पल : पंत

ब्रिसबेन : भारत की आस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले ऋषभ पंत ने इस ऐतिहासिक जीत को अपनी जिंदगी का सबसे बड़ा पल करार दिया।
पंत ने पांचवें दिन चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में नाबाद 89 रन बनाये जिससे भारत ने तीन विकेट से जीत दर्ज करके श्रृंखला 2-1 से अपने नाम की।
उन्होंने मैच के बाद कहा, ‘‘यह मेरी जिंदगी का सबसे बड़ा क्षण है और मुझे खुशी है कि जब मैं नहीं खेल रहा था तब भी सहयोगी स्टाफ और मेरे साथियों ने मेरा समर्थन किया। ’’
भारत ने वनडे और टी20 श्रृंखला में भी नहीं खिलाया था। इसके अलावा टेस्ट श्रृंखला के शुरू में भी उन्हें नजरअंदाज किया गया। उन्होंने सिडनी में 97 रन की जोरदार पारी खेली और फिर यहां अपना जलवा दिखाया।
पंत ने कहा, ‘‘यह स्वप्निल श्रृंखला रही। टीम प्रबंधन ने हमेशा मेरा साथ दिया कि मैं मैच विजेता हूं और तुम्हें टीम के लिये मैच जीतने हैं। मैं हर दिन यही सोचता रहता हूं कि मैं भारत के लिये मैच जीतना चाहता हूं और आज मैंने ऐसा किया। ’’
पिच पर पड़ी दरारों के बारे में पंत ने कहा, ‘‘यह पांचवें दिन की पिच थी और गेंद थोड़ा टर्न ले रही थी। मुझे लगता है कि मैंने अपने शॉट खेलने में अनुशासन दिखाया। ’’
भारतीय कप्तान अजिंक्य रहाणे ने भी अपने युवा साथियों की जमकर तारीफ की।
विराट कोहली की अनुपस्थिति में टीम की अगुवाई कर रहे रहाणे ने कहा, ‘‘यह जीत हमारे लिये काफी मायने रखती है। मैं नहीं जानता कि इसका कैसे वर्णन करना है लेकिन हमारे खिलाड़ियों ने एडीलेड टेस्ट के बाद जज्बा और प्रतिबद्धता दिखायी। मुझे वास्तव में प्रत्येक खिलाड़ी पर गर्व है। ’’
रहाणे ने अपनी 24 रन की पारी के दौरान तेजी दिखायी और उन्होंने कहा कि यह रणनीति का हिस्सा था।
उन्होंने कहा, ‘‘मैंने और पुजारा ने बात की कि वह सामान्य तरीके से खेलता रहेगा और मैं रन बनाने का जिम्मा उठाऊंगा। पुजारा को श्रेय जाता है। जिस तरह से उसने दबाव झेला वह शानदार था। आखिर में ऋषभ और वाशिंगटन ने बहुत अच्छी बल्लेबाजी की। ’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *