कोविड-19 : केंद्रीय दल ने कोलकाता के कुछ हिस्सों का दौरा किया

कोविड-19 : स्थिति का आकलन करने के लिए केंद्रीय दल ने कोलकाता के कुछ हिस्सों का दौरा किया
कोलकाता, 21 अप्रैल (भाषा) कोविड-19 महामारी की वजह से पैदा हुए हालात का आकलन करने के लिए पश्चिम बंगाल भेजी गई केंद्रीय टीमों में से एक ने मंगलवार को शहर के कुछ इलाकों का दौरा किया।
टीम ने कुछ ही घंटे पहले तृणमूल कांग्रेस सरकार द्वारा असहयोग किए जाने की शिकायत की थी।
इस टीम के साथ सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) और राज्य पुलिस के जवान भी थे।
सोमवार को बिना पूर्व सूचना के दिल्ली से दोनों टीमों के आने के बाद केंद्र और राज्य सरकार के बीच तनातनी शुरू हो गई थी।
दो टीमों में से एक यहां शहर में है जबकि दूसरी टीम जलपाईगुड़ी जिले में है।
उन टीमों को कोलकाता और राज्य के कुछ अन्य हिस्सों में कोरोना वायरस के कारण पैदा हुयी स्थिति का जायजा लेने के लिए भेजा गया है।
केंद्र सरकार की अंतर-मंत्रालयी टीमों को पश्चिम बंगाल के अलावा मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और राजस्थान में भी भेजा गया है ताकि उन राज्यों में कोरोना वायरस महामारी से उत्पन्न स्थिति का मूल्यांकन किया जा सके।
केंद्रीय टीम को अपराह्न लगभग 4.45 बजे दक्षिण कोलकाता में बीएसएफ कार्यालय से बाहर आते देखा गया। इसके बाद टीम ने शहर के कुछ इलाकों का दौरा किया।
टीम के प्रमुख अपूर्वा चंद्रा ने सुबह दावा किया था कि उन्हें कहा गया है कि वे “बाहर नहीं जाएंगे।” दिन में उन्हें एक कार में बैठे देखा गया।
रक्षा मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव चंद्रा ने दिन में एक समाचार चैनल से बातचीत करते हुए कहा, “हमें केंद्र द्वारा नियुक्त किया गया है और हमारी नियुक्ति का आदेश कहता है कि राज्य सरकार हमें जरूरी सहायता प्रदान करेगी…। मैं मुख्य सचिव के संपर्क में हूं और जब से यहां आया हूं, तब से उनका समर्थन मांग रहा हूं।’’
उन्होंने कहा, ‘‘मैं उनसे सोमवार को मिला था। लेकिन मंगलवार को हमें सूचित किया गया कि कुछ मुद्दे हैं , इसलिए हम बाहर नहीं जाएंगे। मुख्य सचिव के हमसे मिलने की संभावना है और हम फिर उनके साथ बैठक करेंगे।”
उन्होंने कहा कि उन्होंने यह स्पष्ट कर दिया है कि उनकी यात्रा राज्य सरकार के अधिकारियों के साथ होगी ताकि इसे अधिक सार्थक बनाया जा सके।
चंद्रा ने कहा, ‘‘लेकिन एक दिन बीत चुका है और हमने केवल एनआईसीईडी (आईसीएमआर की एक इकाई) और राज्य सचिवालय का दौरा किया है।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *