सभी बूथ अतिसंवेदनशील घोषित करने की मांग

-चुनाव आयोग से मिले कांग्रेस व वामो नेता

कोलकाता ः भाजपा द्वारा चुनावी दृष्टि से पूरे पश्‍चिम बंगाल को अतिसंवेनशील घोषित करने की मांग के चंद घंटे के अंदर ही कांग्रेस व वाम दलों ने भी तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ हिंसा की आशंका जताते हुए चुनाव आयोग से राज्य के सभी बूथों को अतिसंवेदनशील घोषित करने की मांग की। बुधवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सोमन मित्रा, प्रदीप भट्टाचार्य के अलावा वामो प्रतिनिधि दल के नेता रोबिन देव ने चुनाव आयोग के दफ्तर में अधिकारियों से भेंट की। दोनों दलों ने आयोग से मांग की कि सभी बूथों को अतिसंवेनशील घोषित किया जाय क्योंकि अतीत के इतिसाह से हिंसा की पूरी आशंका है।

सोमेन मित्रा ने आयोग को एक चिठ्ठी देकर मांग की कि राज्य में निष्पक्ष व शांतिपूर्ण चुनाव के माहौल के लिए राज्य में तत्काल केंद्रीय सुरक्षा बलों का हस्तक्षेप जरुरी है। चिठ्ठी में कहा गया है कि सत्ताधारी पार्टी द्वारा अभी से नेताओं, कार्यकर्ताओं व समर्थकों के साथ ही मतदाताओं को डराने धमकाने का काम शुरू हो गया है। ग्यारह मार्च की घटना का हवाला देते हुए कांग्रेस ने कहा कि गस्ती के दौरान गुंडों के साथ मिलकर तृणमूल कांग्रेस ने सिविक वॉलंटियर की बेरहमी से पीटाई कर हत्या कर दी। कई तृणमूल नेताओं का नाम चिठ्ठी में दर्शाते हुए कांग्रेस ने कहा है कि स्थानीय युवक होने के चलते गांव के लोग जब उसे बचाने दौड़े तो उन लोगों पर तृणमूल के गुंडों ने बमबाजी की तथा गोली भी चलाई। कांग्रेस ने दोषियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग करते हुए कहा कि चुनाव पूर्व व बाद की स्थिति पूरी तरह कंद्रीय सुरक्षा बलों द्वारा नियंत्रित की जानी चाहिए जिससे निष्पक्ष व शांतिपूर्ण चुनाव हो सके। वहीं, वाम दलों ने भी चुनाव आयोग के एक जैसी मांग करते हुए कहा है कि तत्काल पूरे राज्य में केंद्रीय सुरक्षा बलों की तैनाती की जरुरत है जिससे लोगों में विश्‍वास पैदा हो सके तथा लोग निर्भय होकर मतदान कर सकें।

तृणमूल क्षेत्रीय दल ः इस बीच भाजपा द्वारा उम्मीदवारों की सूचि जारी नहीं कर पाने के तृणमूल के तंज पर प्रतिक्रिया देते हुए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने बुधवार को कहा कि तृणमूल क्षेत्रीय पार्टी है। सभी 42 सीटों पर उम्मीदवार घोषित करने के बाद अब उसके पास कुछ नहीं है। लेकिन भाजपा राष्ट्रीय पार्टी जबकि तृणमूल क्षेत्रीय दल। ऐसे में थोड़ा विलंब होना स्वाभाविक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *