जम्मू कश्मीर : प्रशासन ने बताया- सुधर रहे हालात, राज्यपाल ने कहा- घाटी में शांति से मनाई जायेगी ईद

श्रीनगर : अनुच्छेद 370 हटाने संबंधी केंद्र सरकार के फैसले के पहले से ही ‘नजरबंद’ चल रहे जम्मू और कश्मीर के हालात पर प्रशासन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी मुहैया कराई है। इसके साथ ही राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने भी इस बात को लेकर आश्वस्त किया है कि कश्मीर घाटी में शांति के साथ ईद मनाई जाएगी। डिविजनल कमिश्नर बशीर अहमद खान ने शुक्रवार को यहां पर अन्य प्रशासनिक अधिकारियों के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस किया। उन्होंने बताया, कि ‘कश्मीर में ईद का पर्व शांति से मनाया जाएगा। घाटी में हालात सामान्य हो रहे हैं। लोगों को परेशानी ना हो, इसका ख्याल रखा जाएगा। 40 से 50 प्रतिशत इलाकों में स्थिति बेहतर हो रही है। अभी तक किसी भी तरह की अप्रिय घटना नहीं हुई है।’ 

बाहर पढ़ने गए बच्चों के संपर्क में, वापस आने के लिए इंतजाम’ 
उन्होंने बताया, ’20 हजार बच्चे पढ़ाई के लिए अभी राज्य से बाहर हैं। कम्युनिकेशन ब्लॉक होने की वजह से बच्चों में अपने परिजनों से बात करने की बेचैनी है। जो भी वापस आना चाहते हैं, उन्हें विशेष सुविधा मुहैया कराई जाएगी। हर जगह हेल्पलाइन नंबर मौजूद हैं, जिसके जरिए बच्चे हमसे सम्पर्क कर रहे हैं। देश के बाकी हिस्सों में मौजूद बच्चों की जरूरतों को पूरा किया जा रहा है। दिल्ली, मुंबई, चंडीगढ़, चेन्नै में चार मुख्य टीमें हैं, जो अलग-अलग जिलों में मौजूद बच्चों का पूरा ख्याल रख रही हैं।’ 

राज्यपाल ने कहा- शांति के साथ मनेगी घाटी में ईद 
वहीं राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने भी कहा कि घाटी में स्थिति सामान्य हो रही है। यहां शांति के साथ ईद का पर्व मनाया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘कश्मीर घाटी में शांति के साथ ईद मनाई जाएगी। धीरे धीरे हालात सामान्य होने की तरफ बढ़ रहे हैं। लोगों को मिल रही सुविधाओं की समीक्षा होगी।’ गौरतलब है कि इससे पहले जम्मू प्रशासन ने यहां लागू धारा 144 को हटा लिया है। जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने संबंधी सरकार के फैसले से पहले ही धारा 144 लगा दिया गया था। हालांकि प्रशासन का यह निर्णय केवल जम्मू के लिए है, राज्य के बाकी हिस्से में स्थिति यथावत लागू रहेगी। 

जम्मू जिले की डेप्युटी मैजिस्ट्रेट सुषमा चौहान ने जम्मू निकाय की सीमा से धारा 144 को हटा लिया है, जिसमें किसी भी जगह पर 4 से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर रोक लगती है। प्रशासनिक आदेश के अनुसार शनिवार 10 अगस्त की तारीख से सभी स्कूल, कॉलेज और शैक्षिक संस्थानों को खोलने की अनुमति दे दी गई है। इससे पहले प्रशासन ने लोगों को रोजमर्रा की जरूरतों को पूरा करने के लिए थोड़ी ढील दी थी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *