पार्थ ने बैशाखी का इस्तीफा अस्वीकार किया

-आरोपों की उच्चस्तरीय जांच का आश्‍वासन

-2 घंटे तक चली बैठक, खुश दिखी बैशाखी

कोलकाता ः शिक्षामंत्री पार्थ चटर्जी ने शुक्रवार को मिली अल आमिन कॉलेज की टीचर इंचीार्ज बैशाखी बनर्जी का इस्तीफा अस्वीकार कर दिया है। हालांकि, उन्होंने बैशाखी के द्वारा लगाए गए आरोपों की उच्चस्तरीय जांच करने का उन्हें भरोसा दिया है। शिक्षामंत्री संग लगभग 2 घंटे तक चली बैठक के बाद बैशाखी ने इंतजार कर रहे पत्रकारों को इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अपने आरोप व इस्तीफा पत्र शिक्षामंत्री को उनके आवास पर सौंपी। लेकिन शिक्षामंत्री ने आरोपों की उच्चस्तरीय जांच की बात करते हुए इस्तीफा पत्र लौटा दिया। पार्थ बाबू ने कहा कि इस्तीफा स्वीकार करने का कोई सवाल ही नहीं उठता। पहले जांच होने दें। उन्होंने कहा कि जांच के बाद भी अगर लगे कि सही फैसला नहीं हुआ तो ऐसा(इस्तीफा) दे सकती हैं। हालांकि, शिक्षामंत्री संग 2 घंटे चली लंबी बैठक के बाद बाहर निकली बैशाखी बाचतीच के बाद खुश दिख रही थी। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि देखते हैं अब आगे क्या होता है? इससे पहले गुरुवार को शिक्षामंत्री ने बैशाखी से अपील की थी कि वे भावना में बह कर कोई फैसला नहीं लें।

इससे पहले बुधवार को बैशाखी ने शिक्षामंत्री के इशारे व साजिश पर अपने खिलाफ सांप्रदायिकता का आरोप लगने की बात करते हुए पूर्व मेयर शोभन चटर्जी के संग पत्रकार वार्ता कर इस्तीफा देने की घोषणा की थी। पहले उन्होंने कहा था कि वे गुरुवार को वीसी के पास जाकर इस्तीफा पत्र सौंपेंगी। लेकिन गुरुवार को शिक्षामंत्री संग फोन पर बातचीत के बाद उन्होंने इरादा बदलते हुए शिक्षामंत्री के साथ राज्यपाल को इस्तीफा सौंपने की बात कही। इस घोषणा के अनुसार बैशाखी शुक्रवार को शिक्षामंत्री के घर पहुंची। वहां शिक्षामंत्री संग उनकी लगभग 2 घंटे तक बातचीत हुई। सूत्रों का दावा है कि बैशाखी ने अपने सारे आरोप सिलसिलेवार से शिक्षामंत्री के सामने रखी जिसे उन्होंने ध्यानपूर्वक सुना। बैशाखी ने उस शिक्षिका के खिलाफ भी कई शिकायतें कि जिसने फेसबुक लाइव के माध्यम से उन पर सांप्रदायिकता का आरोप लगाया था। शिक्षामंत्री संग बैठक के बाद बैशाखी ने कहा कि उन्होंने(शिक्षामंत्री) ने उनसे कहा है कि पहले जांच होने दे। अगर जांच के बाद भी लगे कि वहां का माहौल नहीं बदला या फैसला सहीं नहीं हुआ तो वे ऐसा(इस्तीफा) कर सकती हैं। मालूम हो कि बैशाखी ने बुधवार को आरोप लगाया था कि शिक्षामंत्री के इशारे पर ही आरोपी शिक्षिका सबिना ने उन पर सांप्रदायिकता का गंभीर आरोप लगाया था। शुक्रवार को उसी शिक्षामंत्री के संग बैठक के बाद बैशाखी काफी संतुष्ट दिखी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *