RIL ने वेनेजुएला से बंद किया तेल का कारोबार, US ने दी थी चेतावनी

वेनेजुएला की निकोलस मादुरो सरकार को अलग-थलग करने में जुटी अमेरिकी सरकार अब भारत पर तेल व्‍यापार नहीं करने का दबाव रही है. हाल ही में अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने भारत से वेनेजुएला से कच्‍चे तेल का बहिष्कार करने को कहा है. इस बीच मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ने वेनेजुएला से तेल निर्यात बंद कर दिया है. कंपनी ने कहा कि प्रतिबंधों को हटाये जाने तक निर्यात बंद रहेगा.

बता दें कि रिलायंस इंडस्‍ट्रीज की अमेरिका स्थित सहयोगी कंपनी वेनेजुएला की सरकारी कंपनी PDVSA को कच्‍चे तेल का निर्यात करती है. इसके अलावा रिलायंस इंडस्ट्रीज के जामनगर स्थित रिफाइनरी ने वेनेजुएला से कच्चे तेल की खरीद भी करीब एक तिहाई कम कर दी है.

क्‍या कहा कंपनी के प्रवक्‍ता ने

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के स्‍पोकपर्सन ने न्‍यूज एजेंसी पीटीआई से कहा, ‘‘अमेरिकी सरकार द्वारा वेनेजुएला की सरकार पर जनवरी 2019 में लगाए प्रतिबंधों के बाद से इनका पूरा अनुपालन करने के लिए कंपनी अमेरिका के विदेश मंत्रालय के प्रतिनिधियों के साथ लगातार संपर्क में है.’’ इसके साथ ही उन्‍होंने यह भी कहा कि हमारी अमेरिकी सहयोगी कंपनी ने वेनेजुएला की सरकारी कंपनी PDVSA के साथ सारा कारोबार बंद कर दिया है और इसकी वैश्विक मूल कंपनी ने कच्चा तेल की खरीद को बढ़ाया नहीं है.’’  

यह है मामला  

दरअसल, वेनेजुएला में राजनीतिक और आर्थिक संकट के हालात हैं. इस संकट के बीच अमेरिकी प्रशासन ने वेनेजुएला की विपक्ष के नेता और नेशनल एसेंबली के अध्यक्ष जुआन गुआइदो को देश के राष्ट्रपति के रूप में मान्यता दे दी है और उन्होंने मादुरो से पद छोड़ने को कहा है. इसके लिए अमेरिकी सरकार लगातार दबाव बना रही है और दुनिया के अन्‍य देशों को भी रणनीतिक तौर पर जुटाने का प्रयास कर रही है. इसी के तहत अमेरिका ने भारत से भी वेनेजुएला के साथ कच्‍चे तेल का व्‍यापार नहीं करने को कहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *