चाइनीज मोबाइल ऐप बनाने के लिए महिलाओं के खींचते थे फोटो

2 मणिपुरी और 1 मध्यप्रदेश का युवक चढ़ा हत्थे, बड़ी साजिश की आशंका

एसटीएफ की टीम भी करेगी पूछताछ

बबीता माली

कोलकाता,समाज्ञा : चाइनीज मोबाइल कंपनी का कर्मचारी बनकर महिलाओं के फोटो खींचने के आरोप में बांसद्रोणी थाने की पुलिस ने तीन युवकों को गिरफ्तार किया। अभियुक्तों के नाम सुनील खुराईजाम (30), सुरेश जेशन ख्वाइरकपाम (30) और शाहिद रेजा (21) है। सुनील और सुरेश पूर्वी इम्फाल और शाहिद मध्यप्रदेश का रहने वाला है। हालांकि पुलिस को इनके इस कार्य को लेकर बड़ी साजिश की आशंका दिखायी दे रही है। फोटों लेकर आखिर ये क्या करना चाहते थे? किसी गिरोह से इनका संबंध तो नहीं जो महिलाओं की तस्करी करता है या ब्लैकमेल करने के इरादे से फोटो खींचे जा रहे थे। ऐसे ही कई सवाल पुलिस के जेहन में है जिसका जवाब ढूढ़ा जा रहा है। इस बाबत अभियुक्तों से पूछताछ करने के लिए एसटीएफ के अधिकारियों को भी बुलाया गया है।

क्या है मामला

सूत्रों ने बताया कि सोमवार को पंचशायर की रहने वाली 22 वर्षीया युवती ने घटना की शिकायत बांसद्रोणी थाने में शिकायत दर्ज करायी थी। शिकायत के अनुसार उसे अभियुक्तों ने चाइनीज कंपनी का कर्मचारी बताया था। दरअसल, युवती का आरोप है कि वह नौकरी की तलाश कर रही थी। तभी उसकी मुलाकात सुनील से हुई। सुनील ने उससे बताया कि वह तथा उसके कुछ साथी चाइनीज मोबाइल कंपनी के लिए काम करते हैं। जल्द ही चाइनीज मोबाइल आने वाला है। अगर वह उनके लिए एक घर तथा उनके मोबाइल के प्रचार के लिए काम करेगी तो वे उसे रुपये देंगे। इसके बाद उन्होंने युवती को बांसद्रोणी के ब्रह्मपुर स्थित आनंद पार्क इलाके में बुलाया था। आरोप है कि उस युवती सहित कई और लोग भी वहां पहुंचे थे। वहां उन युवतियों का चाइनीज मोबाइल से फोटो खींचना शुरू किया गया। इसी दौरान इलाके के लोग भी वहां आ गये और जब वे उनसे कंपनी के कागज दिखाने के लिए कहा तब वे कागज नहीं दिखा पाये। इस पर युवती को उन पर संदेह हुआ कि वे लोग उसे तथा अन्य महिलाओं को ठगने की कोशिश कर रहे हैं। इधर, शिकायत मिलने के बाद ही उन तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया। उन तीनों को 13 फरवरी तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।

पुलिस को क्यों हो रहा है संदेह

सूत्रों ने बताया कि प्राथमिक जांच में पुलिस को अभियुक्तों ने बताया कि उन्हें चाइनीज मोबाइल के लिए एक नया ऐप बनाने के लिए काम पर लगाया गया है। मगर पुलिस को उनके इस बयान पर संदेह हो रहा है। उनका आरोप है कि ये युवक जरूर कुछ साजिश को अंजाम देने की योजना बना रहे हैं। इसके तह तक पहुंचने के लिए एसटीएफ की टीम भी इनसे पूछताछ करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *