कौन आया, कौन गया फर्क नहीं पड़ता : अभिषेक

-कटाक्ष, किसके पॉकेट में हनी, अर्जुन को मालूम
-दावा, दिनेश 2 लाख से भी अधिक वोट से जीतेंगे

कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस विधायक अर्जुन सिंह ने गुरुवार को भाजपा का दामन थामने के संग ही तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी के नारे मां, माट्टी, मानुष पर हमला करते हुए कहा था कि मां, माट्टी, मानुष की सरकार अब केवल मनी, मनी व मनी की बन रह गई है। जवाब में तृणमूल युवा कांग्रेस के अध्यक्ष व ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने अर्जुन सिंह पर कर्टा करते हुए कहा कि हनी किसके पॉकेट में है, यह अर्जुन सिंह को मालूम है। अभिषेक ने साथ ही दावा किया कि दिनेश त्रिवेदी बैरकपुर संसदीय सीट से 2 लाख से भी अधिक मतों से जीतेंगे। क्या सिंह के भाजपा में जाने से तृणमूल कमजोरी होगी, इस सवाल के जवाब में अभिषेक ने कहा कि कौन आया और कौन गया, तृणमूल को इससे कोई भी फर्क नहीं पड़ने वाला।

अर्जुन को शुभकामनाएं : दिनेश
सिंह के भाजपा में जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए बैरकपुर के तृणमूल उम्मीदवार दिनेश त्रिवेदी ने कहा कि कौन किस पार्टी में आया और गया कोई फर्क नहीं पड़ता है। राजनीतिक तौर पर वे अर्जुन सिंह को शुभकामनाएं देते हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल में उनकी केवल एक नेता हैं ममता बनर्जी। और बंगाल की जनता ममता बनर्जी को वोट देती है दूसरे किसी भी व्यक्ति को नहीं। ऐसे में किसी के किसी पार्ट में आने जाने से चुनावी भविष्य पर कोई भी असर नहीं पड़ने वाला है।


सिंह बेईमान हैं : फिरहाद
तृणमूल के वरिष्ठ नेता व शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा कि अर्जुन सिंह ने पार्टी में रहते हुए कई फायदा उठाए। अब वे भाजपा में जाकर पार्टी पर आरोप लगा रहे हैं। सच्चाई है कि अर्जुन सिंह बेईमान हैं। उन्होंने न केवल ममता बनर्जी बल्की जनता के साथ गद्दारी की है। टिकट नहीं मिलने पर उन्होंने पार्टी छोड़ा। जनता चुनाव में उन्हें इसका सबक सिखाएगी। फिरहाद ने कहा कि उनके भाजपा में जाने से बैरकपुर की सीट पर कोई असर नहीं पड़ेगा।


बीजपुर देगा अधिक लीड : शुभ्रांशु
जिस भाजपा नेता मुकुल राय का हाथ पकड़ कर अर्जुन सिंह गुरुवार को भाजपा में शामिल हुए, उन्हीं के विधायक बेटे शुभ्रांशु राय ने गुरुवार को दावा किया कि बैरकपुर संसदीय सीट के लिए बीजपुर विधानसभा से सबसे अधिक लीड मिलेगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए पार्टी को भरोसा करना होगा। शुभ्रांशु ने कहा कि वे अभी भी तृणमूल में हैं तथा जब तक ममता बनर्जी नेत्री हैं, वे तृणमूल में बने रहेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि अर्जुन सिंह का बेटा अभी भी तृणमूल में है तथा पार्टी को उसकी इज्जत करनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *